चीन ने दिया धोखा, डोकलाम पर फिर भेज रहा सेना

चीन ने दिया धोखा, डोकलाम पर फिर भेज रहा सेना

ड्रैगन है कि मानता नहीं, एक बार फिर से भारत को धोखा देने की कोशिश कर रहा है. हाल ही में डोकलाम पर चले लंबे विवाद के बाद चीन की सेना पीछे हट गई थी, लेक...

इंडियन आर्मी हर तरीके से चाइना को पछाड़ने में सक्षम :- जेटली
फिर हो सकती है पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक
चीन पहले गोली नहीं चलाएगा, लेकिन भारत से उसे खतरा बढ़ा- वाशिंगटन पोस्ट

ड्रैगन है कि मानता नहीं, एक बार फिर से भारत को धोखा देने की कोशिश कर रहा है. हाल ही में डोकलाम पर चले लंबे विवाद के बाद चीन की सेना पीछे हट गई थी, लेकिन अब वह अपना वादा तोड़ रहा है. एक बार फिर से ड्रैगन वही हरकत कर रहा है जो पिछले दिनों उसने डोकलाम मामले पर की थी.

ताज़ा खबर के मुताबिक चीन ने डोकलाम पर अपनी सेना का फिर से जमावड़ा शुरू कर दिया है. लिहाजा डोकलाम मामले पर भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ सकता है.

73 दिन तक चले डोकलाम विवाद के बाद ब्रिक्स सम्मलेन के ठीक पहले दोनों देशों ने अपनी-अपनी सेनाओं को वापस बुला लिया था, लेकिन खबर है कि भारत के पीछे हटते ही डोकलाम में चीनी सेना का जमा होना शुरू हो गया है. हालाँकि ब्रिक्स में चाइना ने डोकलाम मामले पर भारत को शांति का भरोसा दिलाया था. आशंका ऐसी भी जताई जा रही है कि चीन फिर से वहां सड़क निर्माण का काम शुरु कर सकता है.

अगर चीन अपने वादे से मुकरता है और अपनी वही हरकत फिर से दोहराता है तो ये भारत के साथ बड़ा धोखा होगा. गौरतलब हो कि डोकलाम भूटान की जमीन पर आता है और चीन इस पर कब्जा करना चाहता है. अगर सुरक्षा की दृष्टि से देखें तो यहां से मुख्य भारत और पूर्वोत्तर के राज्यों को जोड़ने वाला हिस्सा चीन के बेहद करीब आ जाएगा, जो भारत के लिए चिंता की बात है. जो भारत कतई नहीं चाहता.

ख़बरों के अनुसार डोकलाम ट्राइजंक्शन से थोड़ी ही दूरी पर करीब 500 चीनी सैनिक आज और कल में जमा हुए है. ऐसा अनुमान है कि डोकलाम के नजदीक चीनी सेना की हलचल फिर से शुरू होने से दोनों देश एक बार फिर से आमने-सामने आ सकते हैं. आपको बता दें कि चुंबी घाटी पर चीनी सैनिक पहले से ही मौजूद थे. अब खबर ये है कि इन चीनी सैनिकों की तादाद तेजी से बढ़ाई जा रही है. सूत्रों के मुताबिक डोकलाम ट्राइजंक्शन पर जिस जगह पिछली बार विवाद हुआ था, वहां से थोड़ी ही दूरी पर करीब 500 चीनी सैनिक जमा हैं. खुफिया सूत्रों से मिली रिपोर्ट के अनुसार चीनी सैनिकों ने फिर से सड़क निर्माण का काम शुरू करवा दिया है. हालाँकि चीन की मीडिया इस मुद्दे पर चुप्पी साधे हुई है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0