33 अरब डॉलर चट होने के बाद अमेरिका को आई अक्ल, कहा- पाकिस्तान जैसे धोखेबाज को सहायता देना बड़ी मुर्खता

33 अरब डॉलर चट होने के बाद अमेरिका को आई अक्ल, कहा- पाकिस्तान जैसे धोखेबाज को सहायता देना बड़ी मुर्खता

आखिरकार अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली वित्तीय मदद पर रोक लगा ही दी. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्विट करते हुए लिखा है, “हमने बीते 15 ...

सेनाध्यक्ष विपिन रावत के बयान से तिलमिलाया पाकिस्तान, भारत को दी परमाणु हमले की धमकी
भारत की जवाबी कार्रवाई से घबराए पाक ने टेके घुटने, फायरिंग रोकने की लगाई गुहार
पाकिस्तान ने दी बीजेपी अध्यक्ष को जान से मारने की धमकी, कराची से आया फ़ोन

आखिरकार अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली वित्तीय मदद पर रोक लगा ही दी. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्विट करते हुए लिखा है, “हमने बीते 15 सालों में पाकिस्तान को करीब 33 बिलियन डॉलर की आर्थिक मदद दी लेकिन शिवाय हमें झूठे आश्वासन और धोखे के कुछ भी हासिल नहीं हुआ, पाकिस्तान सिर्फ आतंकवादियों को पनाह देता रहा है. पाकिस्तान ने हमें और हमारे नताओं को केवल मुर्ख बनाने का काम किया है. अब हमने निर्णय लिया है कि हम पाकिस्तान को वित्तीय मदद नहीं देंगे.”

एक रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका ने पाकिस्तान को 2002 से लेकर अब तक करीब 33 अरब डॉलर की वित्तीय सहायता दे चुका है. लेकिन इसी साल अगस्त में अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 255 मिलियन डॉलर की सहयता को रोक लिया था तथा पाकिस्तान को चेताया था कि जब तक पाकिस्तान आतंकवादी समूहों के खिलाफ ठीक से कार्रवाई नहीं करता तब तक वह इस सहायता को रोके रखा जायेगा.

गौरतलब है कि एक कनेडियन फेमिली के अपहरण के बाद से पाकिस्तान और अमेरिका के संबंधों में कटुता बढती ही जा रही है. इस फेमिली के अपहरण के बाद डोनाल्ड ट्रम्प ने पाकिस्तान की खूब आलोचना की थी. ट्रम्प ने पाकिस्तान को धमकी भी दी थी कि हम आये साल पाकिस्तान को बहुत बड़ी राशी सहायता के रूप में देते आ रहे है और उन्हें हमारे नागरिकों की सहायता करनी होगी. घटना के तुरंत बाद अमेरिका द्वारा पाकिस्तान की सहायता राशी रोक लेना इस बात को दर्शाता है कि अमेरिकी प्रशासन पाकिस्तान से बुरी तरह खफ़ा है. वहीँ आतंकवादी संगठनों के खिलाफ कोई कार्रवाही ना करने को लेकर नाराज भी.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0