अमेरिका का सीरिया के खिलाफ युद्ध का ऐलान, दनादन दागी 100 से ज्यादा मिसाइलें- दहल उठा दमिश्क

अमेरिका का सीरिया के खिलाफ युद्ध का ऐलान, दनादन दागी 100 से ज्यादा मिसाइलें- दहल उठा दमिश्क

सीरिया की राजधानी आज सुबह हवाई हमलों से दहल उठी. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की घोषणा के बाद सीरिया पर एक के बाद एक लगातार हुए कई तेज विस्फोट...

सेनाध्यक्ष विपिन रावत के बयान से तिलमिलाया पाकिस्तान, भारत को दी परमाणु हमले की धमकी
अमेरिका के लास वेगास में भयंकर गोलीबारी, 50 की मौत और सैंकड़ों घायल
33 अरब डॉलर चट होने के बाद अमेरिका को आई अक्ल, कहा- पाकिस्तान जैसे धोखेबाज को सहायता देना बड़ी मुर्खता

सीरिया की राजधानी आज सुबह हवाई हमलों से दहल उठी. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की घोषणा के बाद सीरिया पर एक के बाद एक लगातार हुए कई तेज विस्फोटों से धरती काँप उठी और आसमान में छा गया बस धुआं ही धुआं. अमेरिका ने हमले का ये आदेश सीरिया में हुए रासायनिक हमले में लोगों के मारे जाने के बाद दिया है. पूर्वी दमिश्क में मिसाइल से हमले के बाद आसमान में धुएं का गुबार छा गया.

सीरिया की वायु सेना ने अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन के इन संयुक्त हमलों का जवाब भी दिया. हालाँकि सीरिया की ओर से दावा किया जा रहा है कि उन्होंने दमिश्क की ओर आ रहे 13 रॉकेटों को हवा में ही मार गिराया. हमले के बाद सीरिया के राष्ट्रपति ने कहा है की अच्छे लोगों को अपमानित नहीं किया जाएगा. इधर सीरिया के सरकारी न्यूज़ चैनल ने कहा है कि, ‘ये हमले अंतरराष्ट्रीय कानून का स्पष्ट उल्लंघन हैं और यह अंतरराष्ट्रीय वैधता की अवमानना दर्शाता है.’

आपको बता दें कि शुक्रवार की रात को अमेरिका ने अपने तीन साथी देशों से मिलकर सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल असद को कथित रासायनिक हमले के लिए सबक सिखाने के लिए और उन्हें ऐसा दोबारा करने से रोकने के लिए सैन्य हमले करने की घोषणा की थी. सीरिया लगातार प्रतिबंधित हथियार के इस्तेमाल की बात नकारता आ रहा है.

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा ने कहा, ‘हमले न ही गृहयुद्ध में हस्तक्षेप और न ही सरकार में बदलाव के लिए किये गए हैं ये सीमित और लक्षित हमले हैं जो क्षेत्र में और तनाव उत्पन्न नहीं करेंगे और हम जनता को हताहत होने से बचाने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे.’

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0