आप सरकार का चौथा बजट पेश, जानिए- 53 हज़ार करोड़ के बजट की मुख्य बातें

आप सरकार का चौथा बजट पेश, जानिए- 53 हज़ार करोड़ के बजट की मुख्य बातें

आम आदमी की सरकार ने दिल्ली के लिए अपना चौथा बजट पेश कर दिया है. वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया द्वारा 2018-19 के लिए पेश किये बजट को पर्यावरण पर खासा ध्या...

केजरीवाल करेंगे 2019 में बीजेपी के लिए प्रचार, रखी है ये एक शर्त
‘आप’ के बीस विधायक अयोग्य घोषित, राष्ट्रपति की मुहर के बाद छिन गई कुर्सी
बड़ी दूर की कौड़ी है केजरीवाल का माफ़ी अभियान, जानिए- क्या है इस अभियान का असली सच?

आम आदमी की सरकार ने दिल्ली के लिए अपना चौथा बजट पेश कर दिया है. वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया द्वारा 2018-19 के लिए पेश किये बजट को पर्यावरण पर खासा ध्यान देने वाला माना जा रहा है. केजरीवाल सरकार ने इसे ग्रीन बजट का नाम दिया है. इस बजट में पर्यावरण के साथ परिवहन, शिक्षा और स्वास्थ्य समेत कई क्षेत्रों में सुधार की कोशिश की गयी है.

दिल्ली का चौथा बजट पहले बजट के 31 हज़ार करोड़ से बढ़कर 53 हज़ार करोड़ तक पहुँच गया है. इसमें स्वास्थ्य क्षेत्रों में दिल्ली सरकार 6729 करोड़ खर्च करेगी जबकि मोहल्ला क्लिनिक और वैन के लिए अलग से 419 करोड़ रूपए का बजट प्रस्तावित किया गया है. इसके अलावा बसों के पार्किंग के लिए भी 7 नए डिप्पो बनाने को मंजूरी दी गयी है इसके लिए 80 करोड़ रूपए बजट का प्रस्ताव दिया गया है.

दिल्ली में वाईफाई के लिए 100 करोड़ रूपए का प्रस्ताव, आप सरकार ने शिक्षा के लिए 14 हज़ार करोड़ रूपए मंज़ूर किये है जो की कुल बजट का 26 फीसदी है. पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए सरकार ने 1000 इलेक्ट्रॉनिक बसों और 1000 नई डीटीसी बसों के चलाने की घोषणा की है. रेस्तरां में नयी तकनीक के तंदूर लगाने हेतु और इलेक्ट्रिक जेनेरेटर के लिए प्रत्येक आवेदक को 5000 रूपए की सहायता राशी देने की घोषणा की गयी है.

दिल्ली नगर निगम को सड़कों की मरम्मत के लिए 1 हज़ार करोड़ रूपए आवंटित किये गए है जो की कुल बजट का 13 प्रतिशत है. केजरीवाल सरकार ने वरिष्ठ नागरिकों को दिया मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा कार्यक्रम का तोहफा तथा शहरी और आवासीय क्षेत्रों के विकास के लिए 31 06 करोड़ रूपए प्रस्तावित किये गए हैं.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0