मौसम: अब तक की रिपोर्ट, कहीं बारिश- कहीं ओले और कहीं बर्फबारी, अब आगे की रिपोर्ट

मौसम: अब तक की रिपोर्ट, कहीं बारिश- कहीं ओले और कहीं बर्फबारी, अब आगे की रिपोर्ट

आंधी तूफ़ान ने जितना उत्तर भारत को हिलाकर रख दिया है उससे कहीं ज्यादा लोग अफवाहों से आतंकित है. मौसम विभाग की चेतावनी के बाद लगभग सभी जगहों पर आमजन से ...

मौसम अलर्ट: आंधी-तूफ़ान और बारिश की चेतावनी के बाद स्कूलों में छुट्टियाँ, डरे-सहमे से हैं लोग
सावधान: मौसम विभाग ने फिर दी चेतावनी, अगले 48 घंटे इन राज्यों के लिए है खतरनाक
मौसम: फिर आ सकता है तेज तूफ़ान, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी, इन जिलों में है ज्यादा खतरा

आंधी तूफ़ान ने जितना उत्तर भारत को हिलाकर रख दिया है उससे कहीं ज्यादा लोग अफवाहों से आतंकित है. मौसम विभाग की चेतावनी के बाद लगभग सभी जगहों पर आमजन से लेकर प्रशासन तक सब अलर्ट पर हैं. सोमवार शाम को राजस्थान के बीकानेर और आसपास के जिलों में आंधी और गरज के साथ कहीं-कहीं बारिश हुई तो रात करीब 11 बजे दिल्ली और एनसीआर में भी धुल भरी आंधी आई. पश्चिम हरियाणा में भी आंधी और हल्की बारिश की खबर है. कई जगहों पर पेड़ टूटे, बिजली गुल हुई और बिजली की तेज गरज के साथ ही बूंदाबादी भी हुई. राहत की बात रही कि सोमवार का दिन ठीक-ठाक गुजरा और किसी बड़े नुकसान की खबर नहीं आई.

दिल्ली और हरियाणा के बाद तूफ़ान ने उत्तराखंड और हिमाचल की ओर मुड़ गया. मौसम विभाग के अनुसार उत्तर भारत और देश के पूर्वी हिस्सों में आज भारी बारिश, आंधी और तूफान की आशंका है. मंगलवार दोपहर को शिमला में जोरदार ओलावृष्टि हुई है. किसानों की फसलों में बहुत नुकसान हुआ है. भारी ओलावृष्टि से लोगों का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. इस वजह से मालरोड और आसपास के कई इलाकों में बर्फ की चादर बिछ गई है. भारी ओलावृष्टि से तापमान काफी गिरावट आई है. यहां तापमान 8 डिग्री सेल्‍स‍ियस तक नीचे गिर गया. मौसम विभाग के अनुसार बुधवार को भी बारिश और ओलावृष्‍टि की आशंका बनी हुई है.

उत्‍तराखंड में बद्रीनाथ समते कई इलाकों में मंगलवार सुबह से ही काफी बर्फबारी शुरू हुई जो देर तक जारी रही. अभी तक की सुचना के अनुसार गढ़वाल मंडल के पहाड़ी इलाकों में जमकर बर्फ़बारी हो रही है. बद्रीनाथ मार्ग पर कुछ जगहों पर हल्के-फुल्के भूस्खलन की भी खबर है हालाँकि अभी तक किसी जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है. भारी बर्फबारी की वजह से एक बार अस्थाई तौर पर केदारनाथ यात्रा रोकी गई है, सरकार ने सोनप्रयाग से आगे श्रद्धालुओं को जाने से रोका हुआ है. उत्तराखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत भी केदारनाथ में फंसे हुए हैं.

मौसम विभाग ने देश के तेरह राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों में आंधी तूफान और बारिश की चेतावनी जारी की है. इनमें उत्तर भारत से दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश समेत पश्चिमी यूपी के हिस्सों में 60 से 80 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चलने के आसार हैं. वहीँ देश के पूर्वी हिस्सों में असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, पश्चिमी मप्र में भी विभाग ने अलर्ट किया हुआ है. तूफ़ान जैसी किसी भी स्थिति से निपटने के लिए सरकार ने कुछ गाइडलाइन जारी की है जिन्हें आप फॉलो करके ऐसी स्थिति से निपट सकते हैं. अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और जानें.

यह भो पढ़ें: खतरा अभी टला नहीं- आंधी और रेतीले तूफ़ान में ऐसे रहें सुरक्षित, कुछ विशेष टिप्स

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0