तेज गर्मी में हवा का प्रेशर बनता है जानलेवा दुर्घटना का कारण, वाहन चालकों के लिए जरूरी बातें

तेज गर्मी में हवा का प्रेशर बनता है जानलेवा दुर्घटना का कारण, वाहन चालकों के लिए जरूरी बातें

गर्मी के मौसम में जैसे-जैसे पारा चढ़ता जाता है वैसे-वैसे ही सफ़र करना भी दूभर होता चला जाता है. खासतौर पर दुपहिया वाहन चालकों के लिए गर्मी के दो-तीन मही...

घर बैठे ऑनलाइन ऐसे पे करें अपना बिजली बिल, पूरी प्रोसेस यहाँ देखें
दोस्त की नाराज़गी का असली कारण
दिशा पाटनी ने अपने बर्थडे पर करवाया हॉट फोटोशूट, फैन्स तो उसकी इन तस्वीरों को देखकर पागल हो जायेंगे

गर्मी के मौसम में जैसे-जैसे पारा चढ़ता जाता है वैसे-वैसे ही सफ़र करना भी दूभर होता चला जाता है. खासतौर पर दुपहिया वाहन चालकों के लिए गर्मी के दो-तीन महीनों तक दिन में सफ़र करना टेड़ी-खीर हो जाता है लेकिन जब कहीं आना-जाना जरूरी हो जाता है तो हमें इन दिनों में ना चाहते हुए भी चिलचिलाती गर्मी में बाहर निकलना ही पड़ता है. इन दिनों में सड़क दुर्घटना होने के कारणों में एक कारण ओर जुड़ जाता है वो है टायरों में हवा का प्रेशर बढ़ जाना. इन दिनों में भीषण गर्मी के चलते वाहनों के टायरों में हवा का दबाव अत्यधिक बढ़ जाता है और फिर टायर फटने से हो जाता है हादसा, जो कई बार जानलेवा भी साबित होता है.

जब जरूरी होता है तो उस सफ़र की टाला तो नहीं जा सकता लेकिन कुछ सावधानियों से हम सड़क हादसे की संभावनाओं को कम जरूर कर सकते हैं. इन दिनों में सड़कों का तापमान बहुत अधिक बढ़ जाता है और तेज रफ़्तार वाहनों में हवा का प्रेशर बढ़ जाने से टायर फटने की नौबत आ जाती है. इसलिए जब भी घर से निकलें तो अपनी बाइक में हवा तीन से पांच पॉइंट तक कम रखें. कार के टायरों में 32 पॉइंट तक हवा सामान्य मानी जाती है लेकिन जब भी गर्मी के दिनों में लम्बी दूरी की यात्रा करनी हो तो कार के टायरों में पांच यूनिट तक हवा कम ही रखें.

जब भी अपने वाहन को पार्क करना हो तो कोशिश करें की छाँव में ही पार्क किया जाये. अगर किसी कारणवश छाँव का बंदोबस्त ना हो सके तो गाड़ी के बोनट पर कोई कपड़ा जरूर डाल दें या अपनी बाइक पर कपड़ा जरूर डाल दें. इसके अलावा इन दिनों में लम्बी यात्रा करनी हो तो लगातार ना चलें, कोशिश करें की बीच में दस मिनट चाय-पानी के बहाने रुका जाये. लगातार AC को ना चलायें. जब भी एयर कंडीशन उपयोग में हो तो कोशिश करें की गाड़ी के अन्दर लाईटर या माचिस की तिल्ली वगैरा ना जलाएं साथ ही कुछ समय के अंतराल पर AC को बंद करते रहें.

चलने से पहले टायरों में हवा का प्रेशर चेक करने के साथ ही रेडियेटर में पानी की मात्रा जरूर जांच लें. यात्रा के दौरान साथ में पानी जरूर रखें और गाड़ी में अग्निशमन यंत्र भी जरूर रखें. जब भी लम्बी दूरी तय करने के बाद गंतव्य पर पहुंचे हो तब या बीच में रुके हों तब गाड़ी या बीके को अचानक से स्टार्ट बंद (स्विच ऑफ) ना करें. कुछ देर गाड़ी को स्टार्ट अवस्था में खड़ी रहने दें फिर बंद करें. बाइक पर सफ़र करने से पहले सर पर कपड़ा लेकर चलें ताकि गर्मी से बचा जा सके और हां, ज्यादा से ज्यादा पानी जरूर पीकर निकलें.

यह भी पढ़ें: सड़कों पर लगेगी नई एटीएम मशीनें, जहाँ एटीएम कार्ड नहीं कचरा डालने पर मिलेंगे पैसे

तो दोस्तों, उम्मीद करतें हैं कि आपको हमारे टिप्स पसंद आये होंगे? आप हमें कमेन्ट बॉक्स में अपने कीमती सुझाव अवश्य दें ताकि हमें ओर भी बढ़िया लिखने की प्रेरणा मिले.

 

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0