आपकी याददाश्त कभी नहीं पड़ेगी कमजोर, अपनाएं ये 5 कामयाब टिप्स

आपकी याददाश्त कभी नहीं पड़ेगी कमजोर, अपनाएं ये 5 कामयाब टिप्स

जैसे जैसे उम्र बढ़ती जाती है हमें भूलने की बीमारी घेरने लगती है. ऐसा 50 -60 साल के लोगों के साथ अकसर होता, जबकि अधिक उम्र वालों के साथ तो ऐसा होने के च...

हरियाणा में बीजेपी को बड़ा झटका, राजकुमार सैनी ने किया अलग पार्टी बनाने का फैसला
राजस्थान: आखिरकार कांग्रेस ने जारी की 152 प्रत्याशियों की पहली लिस्ट, यहाँ देखें पूरी लिस्ट
जल्द ही गिरफ्तार कर लिए जायेंगे PM मोदी के ‘गुरु’, नहीं मिलेगी सुरक्षा

जैसे जैसे उम्र बढ़ती जाती है हमें भूलने की बीमारी घेरने लगती है. ऐसा 50 -60 साल के लोगों के साथ अकसर होता, जबकि अधिक उम्र वालों के साथ तो ऐसा होने के चांस तो और भी बढ़ जाते हैं. लेकिन आजकल ये बिमारी हर उम्र वर्ग के लोगों में भी फैलने लगी है. अगर आपके साथ भी अक्सर ऐसा होता है कि आप किसी चीज को रख कर भूल जाते हैं या फिर इसे ढूंढने के लिए इधर-उधर घूमते रहते हैं, तो आप सतर्क हो जाएं और यह सीखें कि चीजों को कैसे याद (How to Grow Memory Power) रखना है.How to Grow Memory Power

(How to Grow Memory Power) आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताएंगे, जिनके इस्तेमाल से आप अपनी याददाश्त को तेज कर सकेंगे और आप कभी भी किसी बात को नहीं भूलेंगे-

How to Grow Memory Power

नींद: कई बार पूरी नींद न लेने के कारण भी याददाश्त कमजोर पड़ने लगती है. इसलिए याददाश्त को तेज करने के लिए पर्याप्त नींद लें. नींद पूरी होने से दिमाग की नई चीजें सीखने की क्षमता बढ़ती है. अगर आप एक कामकाजी व्यक्ति है तो आपको भरपूर नींद लेनी चाहिए तभी आप अपने काम को अपना बेहतर दे पाएंगे.

टेंशन: टेंशन लेने से शरीर में कोर्टिसोल नाम का हार्मोन बनता है, जिसका याददाश्त पर असर पड़ता है. इससे आप बातों और चीजों को याद भूलने लगते हैं. इसलिए याददाश्त को तेज करने के लिए तनावमुक्त रहें. तनावमुक्त रहने के लिए योग, ध्यान और कसरत आदि करें.

जिज्ञासु प्रवृति: अपनी स्मरण शक्ति को बढ़ाने ले किये और उसे कायम रखने के लिए रोजाना कुछ नया सीखें. एक शोध में ये बात सामने आई कि आसान कामों की जगह डिजिटल फोटोग्राफी, ड्राइविंग, संगीत आदि सीखने से याददाश्त में बेहतर बदलाव आता है और दिमाग तेज होता है. इसके अलावा अच्छी किताबें भी चाहिए.How to Grow Memory Power

खानपान: याददाश्त बढ़ाने के लिए अपने खानपान का विशेष ध्यान रखें. अपनी डाइट में हरी सब्जियों को शामिल करें और खूब पानी पीएं. पत्तेदार हरी सब्जियां, दालें,  मौसमी फल अपने आहार में शामिल करें. इसके अलावा रेड मीट, डेरी उत्पाद, अधिक चीनी अधिक लेने से मस्तिष्क सिकुड़ता है और याद्दाश्त पर भी असर पड़ता है, अत: इनसे परहेज ही करें तो बेहतर होगा.

विटामिन डी का टेस्ट: विटामिन डी याददाश्त को सही बनाएं रखने में मदद करता है. इसकी कमी होने पर भी याददाश्त कमजोर हो सकती है. इसकी पूर्ति के लिए नियमित कुछ समय धूप में बैठें.

COMMENTS