गूगल की दरियादिली, शिक्षा के क्षेत्र में करेगा एक अरब डॉलर खर्च

गूगल की दरियादिली, शिक्षा के क्षेत्र में करेगा एक अरब डॉलर खर्च

गूगल विश्वभर में शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए बड़ी रकम खर्च करने जा रहा है. गूगल के सीईओ सुन्दर पिचई ने कल इसकी घोषणा की. हालाँकि गूगल द्वारा सामाज...

ताजमहल केवल कब्रिस्तान है और अशुभ भी- अनिल विज
हनीप्रीत फिर 3 दिन की रिमांड पर, पेशी से पहले ही आ गया बुखार
डोकलाम पर जापान आया भारत के साथ, बौखलाया चीन

गूगल विश्वभर में शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए बड़ी रकम खर्च करने जा रहा है. गूगल के सीईओ सुन्दर पिचई ने कल इसकी घोषणा की. हालाँकि गूगल द्वारा सामाजिक संगठनों को सहायता देने का कोई यह पहला मामला नहीं है. इस बारे में पिचई ने कहा कि अगले पांच वर्ष में वह गैर-सरकारी संगठनों पर एक अरब डॉलर खर्च करेगा.

गूगल विश्वभर में शिक्षा के स्तर को बढ़ाये जाने के लिए इतने रकम खर्च करेगा. मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुन्दर पिचई ने कल पिट्सबर्ग में घोषणा करते हुए कहा कि, “हमारी कंपनी ने इस बात का संकल्प जाहिर किया है कि उसके कर्मचारी इस दिशा में दस लाख घंटे स्वैच्छिक तरीके से काम करेंगे, हमारा मकसद शिक्षा की गुणवत्ता और स्टार को सुधारना है.”

आपको बता दें कि दिग्गज सर्च इंजन वेबसाइट गूगल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी 45 वर्षीय (सीईओ) सुंदर पिचाई आज से बीस साल पहले भारत से इसी शहर में गए थे. पिट्सबर्ग में रहते हुए ही उन्हें गूगल का सीईओ नियुक्त किया गया था. वो मूल रूप से भारत के मदुरई के रहने वाले थे.

कल सुंदर राजन पिचई ने ‘ग्रो विथ गूगल’ नामक कार्यक्रम की शुरुआत भी की. जिसका उद्देश्य अमेरिकी लोगों को नौकरी पाने और व्यापार बढ़ाने में मदद करना है. पिचई ने कहा कि हमारी कंपनी उडासिटी और कोरसेरा जैसी ऑनलाइन कंपनियों के साथ-साथ गुडविल एवं 4-एच जैसे चैरिटेबल संगठनों के साथ साझेदारी कर रही है, और भविष्य में भी इस तरह के संगठनों के साथ हम मिलकर चलने को प्रतिबद्ध है.

COMMENTS