गोरखपुर काण्ड का आरोपी डॉ कफील खान अरेस्ट

गोरखपुर के बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज (BRD) एवं अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से 70 से अधिक बच्चों की मौत के आरोपी डॉक्टर कफील खान को शनिवार को ग़िरफ्तार क...

रिस्की जोक्स: प्रेम कहानी अमर करने का कारगर नुस्खा, कृपया अपने रिस्क पर फॉलो करें
पद्मावती के विरोधिओं को बड़ी धमकी, नाहरगढ़ किले पर लटकाई लाश, कहा हम पुतले नहीं जलाते
100 के पार पहुंची इन पम्पों पर पेट्रोल की कीमतें, बंद हुई मशीनें- बुलाने पड़े इंजीनियर

गोरखपुर के बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज (BRD) एवं अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से 70 से अधिक बच्चों की मौत के आरोपी डॉक्टर कफील खान को शनिवार को ग़िरफ्तार कर लिया गया. उत्तर प्रदेश पुलिस के एसटीएफ (विशेष कार्य बल) के डीआईजी (पुलिस महानिरीक्षक) मनोज तिवारी ने इसकी पुष्टि की है.

ख़बरों के मुताबिक डॉक्टर कफील खान के ख़िलाफ शुक्रवार को अदालत ने ग़ैर-ज़मानती वॉरंट जारी किया था. उनके अलावा इस मामले में छह अन्य- मनीष भंडारी, उदयप्रताप शर्मा, संजय कुमार त्रिपाठी, सतीश, सुधीर कुमार पांडे और गजानंद जायसवाल भी आरोपित हैं. अदालत इन सभी के ख़िलाफ ग़ैर-ज़मानती वॉरंट ज़ारी किया गया है. इन सभी पर अस्पताल में कई अनियमितताओं के आरोप हैं. कहा जा रहा है कि अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी भी इन्हीं लोगों की लापरवाही की वज़ह से हुई थी. इसके कारण बीती सात से 11 अगस्त के बीच कई बच्चों की मौत हुई.

सुचना के मुताबिक डॉक्टर कफील अस्पताल में शिशु चिकित्सा विभाग और इंसेफलाइटिस वॉर्ड के प्रमुख थे. उन पर आरोप है कि उन्होंने ऑक्सीजन की कमी दूर करने के लिए समय रहते क़दम नहीं उठाए. उन्होंने न ही इसके ज़िम्मेदारों पर कोई कार्रवाई की. जबकि ऑक्सीजन आपूर्ति शाखा के प्रभारी डॉक्टर सतीश ने उन्हें इस बाबत पत्र लिखकर आगाह किया था. खान पर यह भी आरोप है कि वे अपने निजी क्लीनिक के लिए अस्पताल के ऑक्सीजन सिलेंडर चुराकर ले जाते थे. इन आरोपों के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने डॉक्टर कफील को उनके पद से हटा दिया था.

 

COMMENTS