चीन जायेंगे मोदी, ब्रिक्स सम्मलेन में लेंगे हिस्सा

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 3 से 5 सितंबर के दौरान ब्रिक्स (B.R.I.C.S.) शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए चीन के शियामेन की यात्रा पर जायेंगे. विदेश ...

जाधव मामले से नाराज देशवासी भेज रहे पाकिस्तान में जुते चप्पल, चला ऑनलाइन कैम्पेन- जूता भेजो पाकिस्तान
अगर आप भी करते हो गाड़ी चलाते समय फ़ोन पर बात तो हो जाएँ सावधान, अब कोर्ट करेगा आपका ‘इलाज’
PNB घोटाले के बाद जागी सरकार, इन 12 डिफाल्टरों पर बकाया 3 लाख करोड़ वसूलने की तैयारी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 3 से 5 सितंबर के दौरान ब्रिक्स (B.R.I.C.S.) शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए चीन के शियामेन की यात्रा पर जायेंगे. विदेश मंत्रालय ने आज इस आशय की जानकारी दी. ब्रिक्स सम्मेलन में मोदी के हिस्सा लेने जाने की घोषणा ऐसे समय में हुई है जब एक दिन पहले ही डोकलाम के मुद्दे पर भारत और चीन के बीच 72 दिनों से जारी गतिरोध खत्म हुआ है और दोनों देशों ने इस क्षेत्र से अपने सैनिक हटाए है.

आपको बता दें की ब्रिक्स (B.R.I.C.S.) पांच देशों का एक संयुक्त ग्रुप है जिसमे ब्राज़ील, रूस, इंडिया, चाइना और दक्षिण अफ्रीका शामिल है.

म्यामांर की राजकीय यात्रा भी करेंगे पीएम
विदेश मंत्रालय ने बताया कि चीन के राष्ट्रपति के आमंत्रण पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 3 से 5 सितंबर के दौरान नौंवे ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने चीन के फजियान प्रांत के शियामेन क्षेत्र की यात्रा पर जायेंगे. चीन की यात्रा पूरी करने के बाद मोदी 5 से 7 सितंबर तक म्यामांर की राजकीय यात्रा पर जायेंगे. वे म्यामांर के राष्ट्रपति यू थिन क्वा के निमंत्रण पर म्यामांर जा रहे हैं. यह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पहली द्विपक्षीय म्यामांर यात्रा होगी. इससे पहले वे 2014 में आसियान शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने म्यामांर की राजधानी गए थे. विदेश मंत्रालय ने बताया कि अपनी म्यामांर यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री आपसी हितों के मुद्दों पर स्टेट काउंसलर आंग सान सू की के साथ चर्चा करेंगे और राष्ट्रपति यू थिन क्वा से मुलाकात करेंगे. इसके अलावा प्रधानमंत्री का यांगून और बेगान में भी कुछ कार्यक्रमों में हिस्सा लेने का कार्यक्रम है.

 

COMMENTS