जानिए 1 अक्टूबर से बदलने जा रहे हैं ये पांच नियम, फास्टेग समेत ये नियम होंगे लागू

जानिए 1 अक्टूबर से बदलने जा रहे हैं ये पांच नियम, फास्टेग समेत ये नियम होंगे लागू

क़ानून और नियम समय समय पर बदलते रहते है और आज के जमाने के हिसाब से हमें उन्हें लेकर अपडेटेड रहना बेहद जरूरी रहता है. आईये जानते है कि अक्टूबर महीने की ...

अजिंक्य रहाणे के पिता पुलिस हिरासत में, जानिए क्या थी वजह?
दिवाली पर पतंजलि का तोहफा, 100 रूपए के कार्ड से मिलेगी 5 लाख तक की वित्तीय मदद
भारत के लिए खतरे की घंटी, पाकिस्तान बन सकता है दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी एटमी ताकत

क़ानून और नियम समय समय पर बदलते रहते है और आज के जमाने के हिसाब से हमें उन्हें लेकर अपडेटेड रहना बेहद जरूरी रहता है. आईये जानते है कि अक्टूबर महीने की शुरुआत में कौन कौन से नियम बदल जाने वाले है?

1  अक्टूबर में बड़ा नियम का बदलाव स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की तरफ से किया जा रहा है जिसके तहत मेट्रो सिटीज में खाताधारक को मिनिमम बेलेंस 5000 से घटाकर के 3000 कर दिया गया है और  इससे लगभग 6 करोड़ ग्राहक लाभान्वित होने वाले है. ऐसा कहा जा रहा है कि लोगों की शिकायतें आ रही थी की इस नियम में बदलाव जरुरी है, इसके तहत स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने ग्राहकों को ये लाभ दिया है.

  1. दूसरा फैसला भी स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने किया है जिसके तहत अब अगर अपना खाता शुरू करवाने के 14 दिन यानी सिर्फ दो हफ्ते के भीतर ही बंद करवा देते है तो फिर आपको कोई भी चार्ज नही देना होगा जबकि इसके बाद खाता बंद करवाने पर ग्राहक को 500 रूपये का चार्ज लगेगा.
  2. अक्टूबर माह से ही फ़ास्टेग को लागू कर दिया जाएगा जिसकी सहायता से कोई भी गाडी बिना रुके सीधे ही टोल प्लाजा से निकल जायेगी, ये टैग गाडी के विंडस्क्रीन पर लगेगा जिसे टोल का सेंसर अपने आप रीड कर लेगा और उसकी मदद से पेमेंट हो जाएगा, इससे टोल पर लगने वाली लम्बी लम्बी लाइन्स में कमी आयेगी. इस नियम से डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा मिलेगा और लोगों को समय की बचत भी होगी.
  3. एक अन्य फैसला ट्राई ने लिया है जिसके लागू हो जाने के बाद से कई जगहों पर कॉल रेट्स में पचास प्रतिशत से भी अधिक कटौती की है जिससे करोड़ों ग्राहक लाभान्वित होने वाले है.
  4.  अक्टूबर में व्यापारी पुराने सामान पर नया एम्आरपी लगाकर के नही बेच पायेंगे, अगर वो ऐसा करते है तो सरकार उन पर कार्यवाही कर सकती है. पहले जीएसटी लागू होने पर सरकार ने व्यापारियों को 30 सितम्बर तक ऐसा करने की छूट दे दी थी लेकिन अब वो ऐसा नही कर पायेंगे. इसका सीधा फायदा ग्राहकों को मिलने की उम्मीद है.

 

COMMENTS