तो ये थी पंचकुला हिंसा की मास्टर माइंड, कबूल किया गुनाह

तो ये थी पंचकुला हिंसा की मास्टर माइंड, कबूल किया गुनाह

आखिरकार पुलिस को जिस बात का शक था वो सच निकली. हनीप्रीत ने अपना गुनाह कबूल कर ही लिया की वह पंचकुला हिंसा में शामिल थी. सूत्रों के मुताबिक, राम रहीम क...

आखिरकार झुक गया बर्बादी का बादशाह, युद्ध की धमकियों के बीच किम जोंग दक्षिण कोरिया से बातचीत को तैयार
मौसम अलर्ट: आंधी-तूफ़ान और बारिश की चेतावनी के बाद स्कूलों में छुट्टियाँ, डरे-सहमे से हैं लोग
पटाखे फोड़ने को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने फिर बदला नियम, अब दोनों समय फोड़ सकते हैं पटाखे

आखिरकार पुलिस को जिस बात का शक था वो सच निकली. हनीप्रीत ने अपना गुनाह कबूल कर ही लिया की वह पंचकुला हिंसा में शामिल थी. सूत्रों के मुताबिक, राम रहीम को सजा होने के बाद पंचकूला में हुई हिंसा हनीप्रीत के इशारे पर ही हुई थी ये बात हनीप्रीत ने बुधवार को पुलिस के सामने रिमांड के दौरान स्वीकार की. इसके पहले पंचकूला हिंसा के लिए सवा करोड़ रुपए बांटे जाने की बात भी हनीप्रीत स्वीकार कर चुकी है.

कल रिमांड अवधि समाप्त होने पर कोर्ट द्वारा हनीप्रीत को फिर से तीन दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा गया था. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक हनीप्रीत ने ही देश विरोधी विडियो बनाकर इन्टरनेट पर वायरल किया था. यहाँ तक की देश का नाम मिटने तक की धमकी भी हनीप्रीत के इशारे पर दी गयी थी. पुलिस के पास इसके सबूत है कि हनीप्रीत के मोबाइल में ये सब मार्क किये मेप में है. आपको बता दे की 25 अगस्त को डेरा मुखी को सजा सुनाये जाने के बाद पंचकुला में हिंसा हुई थी जिसमे करोड़ो रूपए का नुक्सान किया गया था और 38 लोगों की जान चली गयी थी.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक हनिप्रीत ने डेरा के कारिंदों के मार्फत पहले डेरा समर्थकों को देश विरोधी नारे लगाने के लिए उकसाया. इस काम के लिए विशेष तौर पर औरतों को हनीप्रीत की प्लानिंग के हिसाब से ही चुना गया था. और फिर उसके बाद सबूत के तौर पर वीडियो मंगवा कर उनको खुद सोशल मीडिया में पोस्ट किया.

पुलिस ने हनीप्रीत से मोबाइल और लैपटॉप बरामद करने के लिए मंगलवार को 9 दिन का रिमांड माँगा था लेकिन कोर्ट ने 3 दिन का रिमांड स्वीकार किया था.

COMMENTS