भारत के दबाव में झुका पाकिस्तान, कुलभूषण जाधव से अब मिल सकेगी उसकी पत्नी

भारत के दबाव में झुका पाकिस्तान, कुलभूषण जाधव से अब मिल सकेगी उसकी पत्नी

पाकिस्तान की जेल में अवैध रूप से कैद किये गए भारतीय व्यापारी कुलभूषण जाधव मामले में आख़िरकार भारत को कोशिशें रंग लायी. पाकिस्तान की सैन्य अदालत द्वारा ...

फारुक अब्दुल्ला के बिगड़े बोल, फिर बताया पीओके को पाकिस्तान का हिस्सा
इस दिवाली चीन का निकलने वाला है दिवाला, जानिए कैसे?
जाधव मामले से नाराज देशवासी भेज रहे पाकिस्तान में जुते चप्पल, चला ऑनलाइन कैम्पेन- जूता भेजो पाकिस्तान

पाकिस्तान की जेल में अवैध रूप से कैद किये गए भारतीय व्यापारी कुलभूषण जाधव मामले में आख़िरकार भारत को कोशिशें रंग लायी. पाकिस्तान की सैन्य अदालत द्वारा जाधव को मौत की सजा सुनाये जाने के बाद भारत लागातार प्रयास कर रहा था की अंतर्राष्ट्रीय मंच पर पाकिस्तान को घेरा जाये, और अंतर्राष्ट्रीय दबाव के बाद आखिरकार पाकिस्तान को कुलभूषण जाधव को पत्नी से मिल सकने की अनुमति देने को मजबूर होना पड़ा.

इस बाबत रक्षा राज्यमंत्री सुभाष भामरे ने बताया की पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव की पत्नी को उनसे मिलने की इजाजत दे दी है. उन्होंने कहा की पाकिस्तान में सैन्य अदालत द्वारा कुलभूषण को सजा ए मौत सुनाये जाने के बाद से ही हम न्याय के लिए अंतर्राष्ट्रीय अदालत का रुख किया था. हमने हर मोर्चे पर पाकिस्तान का भंडाफोड़ किया, पाकिस्तान अपनी ही करनी से अलग थलग पड़ता गया, और हम उसकी मौत की सजा पर रोक लगवा पाने में सफल हुए. पाकिस्तान कुलभूषण के परिवार को उससे मिलने ही नहीं दे रहा था, लेकिन अंतरराष्ट्रीय मंच के जरिए हम उस पर दबाव बनाने में सफल हुए और कुलभूषण के परिवार को मुलाक़ात की परमिशन देने को मजबूर किया.

गौरतलब है की पाकिस्तान ने भारत के बिज़नस मेन कुलभूषण जाधव को जासूसी के झूठे आरोप में अपने यहाँ कैद कर रखा है. उसे पाकिस्तान की सैन्य अदालत द्वारा मौत की सजा सुनायी गयी है. कुलभूषण की सजा के खिलाफ भारत की ओर से आईसीजे में दी गयी दलीलों के जवाब में पाकिस्तान भी अपनी सफाई पेश करने लिए तैयारी कर रहा है. जाधव को पाकिस्तान ने मार्च 2016 में बलूचिस्तान में पकड़ा था ओर उसे जासूसी गतिविधियों के झूठे आरोप लगाकर मौत की सजा सुनाई गयी थी.

पाकिस्तान की सेना का यह कहना है की वह भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव क्षमा याचिका पर फैसले करने के करीब है, जाधव को जासूसी के आरोप में सैन्य अदालत ने सजा-ऐ-मौत का ऐलान किया था. पाकिस्तानी अदालत ने 46 वर्षीय जाधव को पाकिस्तान के खिलाफ ‘जासूसी गतिविधियों में उनकी कथित संलिप्तता’ के आरोपों को लेकर इसी साल अप्रैल में मौत की सजा सुनाई थी.

COMMENTS