मोदी ने दिया जन्मदिन का बड़ा तोहफा, देश के सबसे बड़े बाँध का लोकार्पण

मोदी ने दिया जन्मदिन का बड़ा तोहफा, देश के सबसे बड़े बाँध का लोकार्पण

56 सालों के इंतज़ार के बाद देश के सबसे बड़े और दुनिया के दुसरे सबसे बड़े बाँध का उद्घाटन आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने कर कमलों से किया. सरदार सरो...

मोदी का म्यांमार दौरा, दोनों देशों ने किए 11 समझौतों पर हस्ताक्षर
भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में मोदी ने दोहराया किसानों की आय दुगुनी करने का वादा
मुंबई हादसे में मृतकों के परिजनों को मिलेंगे 5-5 लाख रुपए, घायलों का इलाज फ्री

file photo

56 सालों के इंतज़ार के बाद देश के सबसे बड़े और दुनिया के दुसरे सबसे बड़े बाँध का उद्घाटन आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने कर कमलों से किया. सरदार सरोवर बाँध की नींव देश के पहले प्रधानमंत्री पं. जवाहरलाल नेहरू द्वारा रखी गयी थी.

नर्मदा नदी पर 800 मीटर ऊँचाई पर बने सरदार सरोवर बांध का उद्घाटन करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने 67वें जन्मदिन के मौके पर देश को एक यादगार तोहफा दिया है. हालांकि इस बांध की नींव आज से 56 साल पहले 4 अप्रैल 1961 में रखी गयी थी. और इसे तैयार होने में काफी लंबा समय लग गया.

सरदार सरोवर बांध से चार राज्यों गुजरात, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और राजस्थान के लोगों को लाभ मिलेगा. यह योजना इसकी कुल लागत के हिसाब से भारत की अब तक की सबसे बड़ी योजना है नर्मदा नदी पर बने बाँध की ऊंचाई 138.68 मीटर और लम्बाई 1210 मीटर है. यह बांध 4.74 मिलियन क्यूसेक स्टोर करने की क्षमता का है. इसे बनाने में जितनी कंक्रीट और मेटेरिअल का उपयोग हुआ है उससे अनुमानित रूप से धरती से लेकर चंद्रमा तक सड़क बनायीं जा सकती है. इसे बनाने में 87 भार लाख क्यूबिक मीटर कंक्रीट का उपयोग हुआ है.

इस बाँध लगभग 6.5 हज़ार मेगावाट बिजली पैदा होने का अनुमान है जिसका फायदा 50% से ज्यादा मध्यप्रदेश को होगा. लगभग 30 फीसदी हिस्सा महाराष्ट्र को और गुजरात को 16 फीसदी बिजली का हिस्सा मिलेगा.

 

COMMENTS