राहुल के नामांकन में नहीं आई सोनिया गाँधी, ये है बड़ा कारण

राहुल के नामांकन में नहीं आई सोनिया गाँधी, ये है बड़ा कारण

कांग्रेस के अध्यक्ष पद के नामांकन के समय एक ओर जहाँ पार्टी के कई बड़े ओहदेदार मौजूद थे वहीँ दूसरी ओर राहुल गाँधी की माँ सोनिया और पार्टी की वर्तमान अध्...

सोनिया गाँधी के दामाद मुश्किल में, फंस सकते है जमीन घोटाले में रॉबर्ट वाड्रा
पीएम मोदी का राहुल गाँधी को चैलेन्ज, 15 मिनट बिना कागज के बोल के दिखाएं
PNB घोटाले पर बीजेपी ने तोड़ी चुप्पी, कहा-नीरव मोदी के बाद अगला नंबर वाड्रा और राहुल-सोनिया गाँधी का

कांग्रेस के अध्यक्ष पद के नामांकन के समय एक ओर जहाँ पार्टी के कई बड़े ओहदेदार मौजूद थे वहीँ दूसरी ओर राहुल गाँधी की माँ सोनिया और पार्टी की वर्तमान अध्यक्ष कार्यक्रम से नदारद रहीं. राहुल के अध्यक्ष पद के नामांकन दाखिल करने के दौरान पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, सुशील कुमार शिंदे, कमलनाथ, मोतीलाल वोरा, तरूण गोगोई, मोहसीना किदवई, अशोक गहलौत, शीला दीक्षित और अहमद पटेल जैसे गणमान्य लोग मौजूद थे. लेकिन इस पुरे कार्यक्रम के दौरान सोनिया गाँधी नज़र नहीं आई.

हालाँकि कहा जा रहा है की राहुल के कांग्रेस अध्यक्ष पद के नामांकन फॉर्म में सोनिया गाँधी का नाम भी प्रस्तावक के रूप में था, परन्तु आवेदन के समय पर वो राहुल के साथ नहीं आई. सूत्रों की मानें तो इस कार्यक्रम के दौरान सोनिया गाँधी ने अपनी मौजूदगी न करके एक तरह से राहुल को फ्री हैण्ड देने की कोशिश की है. सोनिया गाँधी चाहती है की राहुल गाँधी खुद आगे आकर पार्टी का नेतृत्व करें, सोनिया गाँधी चाहती है की राहुल पार्टी को नयी ऊँचाइयों तक ले जाये.

पार्टी के नेताओं की चाहत है की सोनिया गाँधी पार्टी के लिए मार्गदर्शक के रूप में अपना योगदान दें लेकिन अगर राहुल गाँधी पार्टी के अध्यक्ष बनने के बाद भी अगर सोनिया गाँधी के साये में रहते है तो पार्टी के लिए ये राजनितिक रूप में कतई ठीक नहीं होगा. गौरतलब है की राहुल गाँधी, नेहरू-गांधी परिवार की पांचवीं पीढ़ी के सदस्य है और छठे शख्स है जो अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के अध्यक्ष बनेंगे.

 

.

COMMENTS