विदेशी कंपनियों को हमने कराया शीर्षासन और जल्द ही कर देंगे उनका खात्मा- स्वामी रामदेव

विदेशी कंपनियों को हमने कराया शीर्षासन और जल्द ही कर देंगे उनका खात्मा- स्वामी रामदेव

पतंजलि की सफलता के बारे में बात करते हुए योग गुरु स्वामी रामदेव ने गुजरात में एक कार्यक्रम के दौरान कामयाबी के मन्त्र बताये. स्वामी रामदेव ने कहा की ह...

टेलिकॉम सेक्टर में बाबा रामदेव की धमाकेदार एंट्री, लांच हुई पतंजलि की सिम- डाटा से बीमा तक ये मिलेंगे फायदे
बाज़ार में जल्द आ रही है पतंजलि की जींस और लंगोट, बाबा रामदेव ने किया ऐलान
पीएम मोदी का गुजरात को तोहफा, रो रो के उद्घाटन से आठ घंटे की दुरी सिमटी घंटे भर में

पतंजलि की सफलता के बारे में बात करते हुए योग गुरु स्वामी रामदेव ने गुजरात में एक कार्यक्रम के दौरान कामयाबी के मन्त्र बताये. स्वामी रामदेव ने कहा की हमने कभी आलोचकों पर ध्यान नहीं दिया. पतंजलि की कामयाबी कड़ी म्हणत का फल है, सफलता का कोई शॉर्टकट नहीं होता. स्वामी जी ने कहा, “अभी तो हमने विदेशी कंपनियों को शीर्षासन कराया है. अगले दो तीन साल में उनका अंत कर देंगे. 2020 तक हमारा टारगेट है कि पतंजलि दुनिया का सबसे बड़ा ब्रांड बने.”

गुजरात में एक बड़े समाचार पत्र के उत्सव में शामिल हुए योग गुरु ने कहा की पतंजलि का उत्तराधिकारी कोई व्यापारी नहीं बल्कि कोई मेरे जैसा सन्यासी ही होगा. स्वामी जी ने कहा की कामयाबी के लिए कभी भी गलत रास्ता नहीं अपनाना चाहिए. पतंजलि ने हमेशा नियम और कानून का पालन किया है.धीरज के बल पर हमने बड़े बड़े कारोबारियों के एकछत्र साम्राज्य को भी पटखनी दी है.

अहमदाबाद के दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में स्वामी रामदेव को सुनने के लिए हजारों की संख्या में भीड़ इकट्ठी हुई. योग गुरु ने कहा, “अपने देश में किसी को आगे बढ़ने के लिए किसी विदेशी कंपनी की जरुरत नहीं है, अगर हम सोचने, समझने और करने की ताकत का सही इस्तेमाल करें तो हम जरुर कामयाब होंगे.” स्वामी जी ने विदेशी कंपनियों पर हमला बोलते हुए कहा की, “विदेशी कंपनियां अपने प्रोडक्ट्स से 25 साल के युवा को भी 40-45 साल का बना देती हैं, आप जानते हो कोई भी इंसान जान-बूझकर बूढ़ा नहीं होना चाहता है.” “बच्चे देश का भविष्य है, उन्हें कुछ नया करने का मौका दो. मैं 50 साल नहीं 500 साल के लिए सोचकर काम कर रहा हूं.”

रामदेव ने बिज़नस के टिप्स देते हुए कहा की, “कोई भी बिज़नस शुरू करने से पहले उसके मार्केट और रिटेलिंग की स्टडी जरुर कर लेनी चाहिए. अगर हम उसके स्कोप को देखेंगे तो हमें ब्रांड में इन्डोर्स करने के लिए बहुत ज्यादा लोगों की आवश्यकता नहीं होगी.”

COMMENTS