सड़क हादसे में पीएम मोदी की पत्नी घायल, सरकारी आदेशों की अवहेलना पड़ी भारी- एक की मौत

सड़क हादसे में पीएम मोदी की पत्नी घायल, सरकारी आदेशों की अवहेलना पड़ी भारी- एक की मौत

पीएम मोदी की पत्नी जशोदा बेन की राजस्थान के चितौडगढ़ के निकट दुर्घटना का शिकार हो गई. बारां जिले में अपने एक रिश्तेदार की शादी से लौट रही जशोदा बेन की ...

प्रधानमंत्री मोदी की हत्या की साजिश रचने वाला आतंकी चढ़ा पुलिस के हत्थे
पीएम मोदी का राहुल गाँधी को चैलेन्ज, 15 मिनट बिना कागज के बोल के दिखाएं
मोदी सरकार का मेगा प्लान: अब 25 साल तक मुफ्त मिलेगी बिजली, बस कीजिये ये काम

पीएम मोदी की पत्नी जशोदा बेन की राजस्थान के चितौडगढ़ के निकट दुर्घटना का शिकार हो गई. बारां जिले में अपने एक रिश्तेदार की शादी से लौट रही जशोदा बेन की गाडी सड़क पर चल रहे एक ट्राले के अचानक ब्रेक लगा देने से ट्राले से जा टकराई. हादसे में पीएम की पत्नी जशोदा बेन समेत गाडी में सवार अन्य घायल हुए हैं जबकि एक सुरक्षाकर्मी को मौके पर ही मौत हो गई. घटना के बाद जशोदा बेन को उदयपुर के लिए रवाना कर दिया गया.

इस घटना पर कई दिग्गज नेताओं ने संवेदना व्यक्त की है लेकिन अभी तक पीएम मोदी की तरफ से कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है. हादसा कोटा– चितौडगढ़ रोड पर कतुंडा नामक गाँव के पास हुआ. हादसे की खबर मिलते ही प्रशासन में हडकंप मच गया. आनन फानन में प्रशासन के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे. घायलों को एम्बुलेंस के द्वारा उदयपुर के लिए रैफर कर दिया गया. वे शादी समारोह में भाग लेने के उपरान्त गुजरात के उंझा लौट रही थी.

बताया जा रहा है कि जशोदा बेन की गाडी के आगे बुल गार्ड लगा हुआ था जो भारतीय हाईवे और रोड़ ट्रांसपोर्ट मंत्रालय द्वारा प्रतिबंधित है. सरकार ने सभी विभागों को इस सम्बन्ध में आदेश जारी किये हुए हैं. नियमानुसार आदेशों की अवहेलना करने वालों के लिए कठोर कार्रवाही का प्रावधान है. सरकार के अनुसार बुल गार्ड और क्रैश गार्ड का प्रयोग कार और SUV में बेहद खतरनाक माना जाता है. इस नियम को तोड़ने वालों पर मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 190 और 191 के अंतर्गत कार्रवाही किये जाने का प्रावधान है. इस बुल गार्ड की वजह से ही उनकी इनोवा का एयरबैग नहीं खुला जिसका खामियाज़ा गार्ड को जान देकर चुकाना पड़ा.

COMMENTS