इस साल का पहला चंद्रग्रहण 31 जनवरी को, जानिए आपकी राशी पर क्या रहेगा प्रभाव और कुछ सावधानियां

इस साल का पहला चंद्रग्रहण 31 जनवरी को, जानिए आपकी राशी पर क्या रहेगा प्रभाव और कुछ सावधानियां

माघ माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को साल 2018 का पहला ग्रहण है. 31 जनवरी को पड़ने वाला यह पूर्ण चंद्रग्रहण होगा जो भारत के सभी भागों से दिखाई देगा. ग्र...

बड़ी खबर: काला हिरण शिकार मामले में सलमान खान को 5 साल की सजा, भेजे जायेंगे सेंट्रल जेल
रखें नवरात्री के नौ परहेज, माता रानी की कृपा से हो जायेंगे मालामाल
JK: पत्थरबाजों से निपटने के लिए पुलिस ने निकाली नई तरकीब, झट से दबोच लिए सरगना और उनके साथी

माघ माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को साल 2018 का पहला ग्रहण है. 31 जनवरी को पड़ने वाला यह पूर्ण चंद्रग्रहण होगा जो भारत के सभी भागों से दिखाई देगा. ग्रहण लगे हुए ही चंद्रमा का उदय होगा व ग्रहण का मध्य और मोक्ष पुरे भारत में दिखाई देगा. चन्द्रग्रहण का स्पर्श भारतीय समय के अनुसार शाम 05:18 को, ग्रहण का मध्य 07:00 बजे और मोक्ष रात 08:42 बजे होगा. आपको बता दें कि ग्रहण का सूतक सुबह 08:34 पर ग्रहण से 9 घंटे पहले ही लग जाएगा. पुरे चंद्रग्रहण की अवधि तीन घंटे 24 मिनट होगी, इसका अलग-अलग राशियों पर अलग-अलग प्रभाव रहेगा. चंद्रग्रहण का आपकी राशी पर क्या प्रभाव रहेगा, आईये जानते हैं-

मेष राशी : इस राशी वाले व्यक्तियों के लिए ग्रहण अशुभ रहेगा. मेष राशी वालों के लिए मानसिक शांति और कष्ट निवारण के लिए ग्रहण के दौरान निरंतर मन्त्र जाप और ग्रहण के मोक्ष पर दान करने श्रेयकर है.

वृष राशी: इस राशी के स्वामियों के लिए ग्रहण अनुकूल फल देने वाला साबित होगा. वृष राशी वालों के लिए अनायास ही धन लाभ के संकेत है. ग्रहण के मोक्षोपरान्त स्वर्ण या तुला दान देने से सितारे प्रबल होंगे और हर प्रकार से कार्यसिद्धि होगी.

मिथुन राशी: इस राशी के जातकों के लिए यह चंद्रग्रहण अशुभफलदायक होगा. पारिवारिक कलह से बचने के लिए कृपया खुद को शांत रखने का प्रयास करें. किसी नए कारोबार में अपना धन निवेश करने से पहले अछि तरह सोच विचार करें वरना नुकसान की सम्भावना है.

कर्क राशी: इस चंद्रग्रहण को कर्क राशी वाले सफ़र करने से बचें, आपकी असावधानी आपको मुसीबत में दाल सकती है. पुरे ग्रहण कल के दौरान मंत्रोच्चारण करें व ग्रहण मोक्ष के उपरांत हवन करना और गौदान करना हितकारी होगा.

सिंह राशी: अचानक ही खर्च में वृद्धि के संकेत है. संतान की तरफ से खुशखबरी मिलेगी. बेकार के वाद-विवाद से बचें. ग्रहण कल के दौरान पूजा-पाठ और बाद में हवन करना श्रेयकर रहेगा.

कन्या राशी: इस राशी के जातकों के लिए इस चंद्रग्रहण पर शुभ योग बन रहें है. पुराना रुका हुआ धन मिल सकता है. कारोबारी मुश्किलें दूर होगी, राजनितिक फायदा मिलने की सम्भावना है. सूतक काल से पहले ही किसी काली गाय को अपने हाथों से गुड़ व चारा खिलाएँ, उन्नति के सारे द्वार खुल जायेंगे.

तुला राशी: तुला राशी के स्वामियों के लिए इस ग्रहण पर सुख-समृद्धि में बढौतरी की सम्भावना है. बिज़नस के नए आयाम स्थापित होंगे जो भविष्य में प्रतिष्ठा के साथ राजनितिक संबंधों में भी प्रगाढ़ता लायेंगे. इस दिन अपने से बड़ों से वाद-विवाद ना ही करें तो बेहतर होगा, बुजुर्गों की दुआ आपके व्यक्तित्व में चार चाँद लगा देगी.

वृश्चिक राशि: इस राशी वालों के लिए यह चंद्रग्रहण अशुभ रहेगा. कर्जे की वजह से मानहानि या मुकदमे में धनहानि के योग बन रहे हैं. पत्नी पक्ष की तरफ से कलह हो सकती है यथासंभव बचें. ग्रहण के दौरान स्नान करने से बचें, किसी भी देवी देवता की मूर्ति को ना ही छुएँ ना ही दर्शन करें.

धनु राशी: स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानी हो सकती है. ग्रहण काल के दौरान विशेष सावधानी बरतें. सूटक के बाद से कोई भी शुभ कार्य ना करें. ग्रहण की समाप्ति पर किसी नदी या नहर या फिर किसी जलाशय के पास जा कर शिव जी की स्तुति करें और यथासंभव गरीबों को दान दें.

मकर राशी: इस ग्रहण पर मकर राशी वालों के दाम्पत्य जीवन में कड़वाहट के संकेत बन रहे हैं. अदालती अडचनें आ सकती है, जौ का दान करें व अपने नजदीकी किसी गौशाला में जाकर गायों को गुड़ खिलाएं. (ग्रहण के बाद या सूतक के पहले)

कुम्भ राशी: इस चंद्रग्रहण पर कुम्भ राशी वालों के लिए बहुत ही शुभ संकेत बन रहे हैं. कुम्भ राशी वालों को इस दौरान हर प्रकार के काम में सफलता मिलगी, व्यवसाय वृद्धि होगी व मुकदमे में जीत के आसार हैं. विरोधियों को मुंह की खानी पड़ेगी तथा खेल प्रतियोगिता में वर्चस्व कायम करेंगे. गर्भवती स्त्रियों को घर के अन्दर रहने की सलाह दी जाती है. इस दिन किसी भी प्रकार से काटने का काम न करें अर्थात कैंची या किसी भी काटने वाले औज़ार से कुछ भी काटने से परहेज़ करें.

मीन राशी: 31 जनवरी का खग्रास चंद्रग्रहण मीन राशी वालों के लिए अशुभ होने वाला है. संतान और व्यवसाय की तरफ से परेशानियां मिलेंगी. कोई अपना आपसे दगा कर सकता है अत: सावधानी रखें. धारदार औज़ार से चोट लगने का भय है. बिना सोचे समझे धन का निवेश भविष्य में चिंता का कारन बनेगा. ग्रहण काल के दौरान चंद्रमा की छाया पड़ने से बचें और पूजा पाठ करें.

COMMENTS