21 जनवरी को होगा साल का पहला चन्द्र ग्रहण, सैंकड़ों सालों बाद बन रहा है ये ख़ास संयोग

21 जनवरी को होगा साल का पहला चन्द्र ग्रहण, सैंकड़ों सालों बाद बन रहा है ये ख़ास संयोग

साल 2019 का पहला चन्द्र ग्रहण 21 जनवरी को लगने जा रहा है. सोमवार को लगने वाला यह ग्रहण अपने आप में अनोखा ग्रहण होगा. सोमवार को पौष पूर्णिमा है. सुपर ब...

खाते में मिनिमम बैलेंस न रखने पर ग्राहकों को लगी मोटी चपत, बैंकों ने कमाए पांच हजार करोड़
इस पुल पर शुरू होगी सबसे पहले 5जी सेवा, 55 किलोमीटर है लम्बाई
हिरोइन ने फिल्म फेस्टिवल में पहनी पारदर्शी ड्रेस, अश्लीलता फ़ैलाने के आरोप में हो सकती है जेल

साल 2019 का पहला चन्द्र ग्रहण 21 जनवरी को लगने जा रहा है. सोमवार को लगने वाला यह ग्रहण अपने आप में अनोखा ग्रहण होगा. सोमवार को पौष पूर्णिमा है. सुपर ब्लड मून पर खग्रास चंद्र ग्रहण लगेगा. इस दौरान चन्द्रमा की रौशनी 30 प्रतिशत ज्यादा तेज हो जाएगी और चन्द्रमा पहले की अपेक्षा 15 प्रतिशत बड़ा दिखाई देगा. इस चन्द्र ग्रहण की कुल अवधि साढ़े तीन घंटे की होगी.चन्द्र ग्रहण कब है

21 जनवरी को लगने वाला यह ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा. लेकिन फिर भी इसका असर 15 दिन तक रहेगा. राजनितिक उथल पुथल होने की संभवना है. महंगाई बढ़ सकती है. मौसम में बदलाव आ सकते हैं. चंद्रमा जल वायु और बर्फ का कारक होता है और साथ ही चन्द्रमा पश्चिम दिशा का कारक होता है. 21 से 24 जनवरी तक पश्चिमी विक्षोप यानि वेस्टर्न डिस्टर्बेंस की वजह से पहाड़ों में बर्फ पड़ सकती है. इसी संयोग के चलते शीत लहर चलने की अधिक संभावना है. मैदानी इलाकों में तूफ़ान और वर्षा हो सकती है. साथ ही समुद्र में हाई टाइड उठ सकती हैं. 21 जनवरी से 24 जनवरी तक मौसम खराब रह सकता है. धन लाभ संबंधी काम में अड़चन आ सकती है.

वर्तमान में प्रयाग में अर्ध कुंभ चल रहा है. जिसमें हर पूर्णिमा का शाही स्नान होता है. लगभग अगले तीन पूर्णिमा तक सुपर चन्द्र की श्रृंखला में यह पहला सुपर मून होगा. चंद्रमा अपनी कर्क राशि में होगा. शनि का पुष्य नक्षत्र होगा. खास चंद्र पुष्य बन रहा है. इस चंद्र पर खग्रास चन्द्र ग्रहण है. स्नान दान जाप पूजा से बहुत लाभ मिलेगा. सारे पाप धूल जाएंगे. रोग और दरिद्रता से मुक्ति मिलेगी.चन्द्र ग्रहण कब है

यह ग्रहण इस बार एक अद्भुत संयोग बना रहा है. सर्वार्थ सिद्धि योग के साथ चंद्र ग्रहण आया है. पढ़ाई, नौकरी, व्यापार, शादी, मुकदमा, शत्रु शांति संबंधी हर काम सौ प्रतिशत बनेगा. शुभ माघ मास में सैकड़ों साल बाद ग्रह नक्षत्रों का ऐसा संयोग बना है. 21 जनवरी को सुबह नौ बजकर चार मिनट पर ग्रहण शुरू होगा जो दोपहर 12 बजकर 21 मिनट तक रहेगा.

COMMENTS