आधार को लेकर UIDAI ने जारी की चेतावनी, इन्टरनेट पर यूज करने में बरतें सावधानी

आधार को लेकर UIDAI ने जारी की चेतावनी, इन्टरनेट पर यूज करने में बरतें सावधानी

आधार कार्ड को लेकर भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने चेतावनी जारी करते हुए लोगों से इन्टरनेट पर निजी जानकारी शेयर करने में सावधानी बरतने क...

आपके आधार कार्ड का प्रयोग किसने और कहाँ किया है, ऐसे जानिए चुटकियों में
अकाउंट खोलने के लिए फेसबुक ने मांग लिया आधार कार्ड, किरकिरी के बाद दी सफाई
अब आधार कार्ड के बाद आपके घर का पता भी होगा डिजिटल

आधार कार्ड को लेकर भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने चेतावनी जारी करते हुए लोगों से इन्टरनेट पर निजी जानकारी शेयर करने में सावधानी बरतने को कहा है. संस्था ने कहा है कि किसी भी सेवा का लाभ लेने के लिए आधार से सम्बंधित जानकारी इन्टरनेट पर सांझी करने से पहले अच्छी तरह से जांच-पड़ताल कर लें. UIDAI ने ये बयान गूगल पर ‘मेरा आधार, मेरी पहचान’ टाइप करने पर कथित तौर पर आधार की जानकारी सामने आने की ख़बरों के बाद जारी किया है.

हालाँकि UIDAI ने साफ़ किया है कि इस प्रकार के मामले का ‘आधार और उसके डेटाबेस से कोई संबंध नहीं है.’ UIDAI ने आधार पहचान प्रणाली को पूर्णतया सुरक्षित बताते हुए कहा कि लोगों को इस तरह की खबरों से घबराने की जरुरत नहीं है, और ना ही इससे आधार की सुरक्षा को कोई खतरा है. UIDAI की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि इस प्रकार की जानकारी कुछ असामाजिक तत्व इन्टरनेट पर अपलोड कर देते हैं लेकिन इससे आधार के दुरूपयोग करने जैसी कोई संभावना नहीं है. किसी भी आधार की जानकारी UIDAI के डेटाबेस से नहीं ली गई है.

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने कहा कि आधार भी किसी दुसरे पहचान पत्र की तरह गोपनीय दस्तावेज नहीं है. इस पर भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने तर्क देते हुए कहा कि आपके आधार की जानकारी किसी दुसरे को होना काफी नहीं है इसके लिए बाइ योमैट्रिक प्रमाणीकरण की जरुरत पड़ती है जिसका किसी भी प्रकार से दुरूपयोग नहीं किया जा सकता. संस्था ने स्पष्ट किया कि किसी थर्ड पर्सन को आपके आधार नंबर पता होने पर भी उसके द्वारा उसके इस्तेमाल की संभावना ना के बराबर है और ना ही वो इससे आपका कोई नुक्सान हो सकता है.

COMMENTS