अरे! अभी तक कांग्रेस ने लिस्ट भी जारी नहीं की, और प्रत्‍याशी भरने लगे नामांकन

अरे! अभी तक कांग्रेस ने लिस्ट भी जारी नहीं की, और प्रत्‍याशी भरने लगे नामांकन

राजस्थान चुनावों के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है और बीजेपी ने अपने प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी कर दी है. बावजूद इसके कांग्रेस ने अभी तक ट...

गठबंधन में गाँठ: मायावती का कांग्रेस को झटका, MP और राजस्थान में अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान
राजस्थान: कांग्रेस ने जारी की दूसरी लिस्ट, वसुंधरा के खिलाफ लड़ेंगे मानवेन्द्र सिंह
राजस्थान: आखिरकार कांग्रेस ने जारी की 152 प्रत्याशियों की पहली लिस्ट, यहाँ देखें पूरी लिस्ट

राजस्थान चुनावों के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है और बीजेपी ने अपने प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी कर दी है. बावजूद इसके कांग्रेस ने अभी तक टिकट नहीं बांटे है और अपने प्रत्याशियों की पहली सूची भी जारी नहीं की है. लिहाजा, टिकट के दावेदारों के लिए अब इन्तजार करना भारी होता जा रहा है. राजस्थान विधानसभा में प्रतिपक्ष उपनेता तथा कांग्रेस के विधायक रमेश मीणा ने ऐलान करते कहा है कि वह पार्टी के प्रत्याशी के रूप में नामांकन दाखिल करेंगे. मीणा सपोतरा विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं.नामांकन प्रक्रिया

रमेश मीणा ने कहा की वो 16 नवम्बर को नामांकन दाखिल करने जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि मेरी जीत सुनिश्चित है इसलिए मैं स्पोतरा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में 16 नवम्बर को पर्चा दाखिल करने वाला हूँ. आपको बता दें की इससे पहले मंगलवार को ही कांग्रेस के दो बड़े नेताओं ने भी नामांकन दाखिल कर दिए. जिनमें कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव व घोषणा पत्र समिति के अध्यक्ष हरीश चौधरी ने बायतू विधानसभा से तथा पूर्व राजस्व मंत्री हेमाराम चौधरी ने गुड़ामालाणी सीट से अपना नामांकन दाखिल किया.

इसके बीच कांग्रेस के मुख्यमंत्री चेहरे और पार्टी के संगठन महासचिव अशोक गहलोत ने राज्य की सियासी हलचल तेज करने वाला बयान देकर राजनितिक गलियारों में हलचल मचा दी है. उन्होंने कहा की वह (अशोक गहलोत) और प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट दोनों ही चुनाव मैदान में उतरेंगे. अशोक गहलोत का बयान काफी ख़ास माना जा रहा है क्योंकि गहलोत और पायलट को कांग्रेस की सरकार बनने पर मुख्यमंत्री के चेहरे के तौर पर देखा जा रहा है.नामांकन प्रक्रिया

हालाँकि इन दोनों ने कभी खुलकर मुख्यमंत्री पद के लिए अपनी दावेदारी पेश नहीं की है. लेकिन इनके समर्थकों की तरफ से मुख्यमंत्री के सवाल पर समय-समय पर बयानबाजी होती रही है. अशोक गहलोत की तरफ से दोनों के चुनाव लड़ने के बयान के बाद सचिन पायलट का भी बयान आया है की वह और गहलोत दोनों चुनाव लड़ने वाले है. आपको बता दें कि राज्य की 200 सीटों के लिए नामांकन पत्र 19 नवंबर तक दाखिल किए जा सकेंगे. नामांकन पत्रों की जांच 20 नवंबर को की जाएगी जबकि नाम वापसी की आखिरी तारीख 22 नवंबर है. वहीँ, मतदान सात दिसंबर को होंगे और मतगणना 11 दिसंबर को की जाएगी होगी.

COMMENTS