भोपाल रेप मामला: पुलिस ने दोषियों को दी ऐसी गजब की सज़ा, अनोखा तरीका जानकर आ जायेगा पसीना

भोपाल रेप मामला: पुलिस ने दोषियों को दी ऐसी गजब की सज़ा, अनोखा तरीका जानकर आ जायेगा पसीना

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में परीक्षा की तैयारी कर रही छात्रा से गैंगरेप की घटना के बाद पुलिस ने तत्काल कार्रवाही करते हुए चार आरोपियों को गिरफ्तार ...

कभी राहुल गांधी की प्रेमिका बनना चाहती थी ये जानी-मानी एक्ट्रेस, राहुल भी हमेशा करते थे ऐसा
खतरे में LIC, सरकार के इस कदम से डूब सकती है LIC की नैय्या और लोगों की बीमा की रकम
Whatsapp,Facebook पर अफवाह फैलाने वालों की अब खैर नहीं, मोदी सरकार बना रही है सख्त नियम

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में परीक्षा की तैयारी कर रही छात्रा से गैंगरेप की घटना के बाद पुलिस ने तत्काल कार्रवाही करते हुए चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. इस घटना ने प्रदेश में महिला सुरक्षा को लेकर सरकार के दावों पर सवालिया निशान लगा दिया है. मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अरुण यादव ने इस घटना पर मुख्यमंत्री शिवराजसिंह से इस्तीफ़ा माँगा है. उन्होंने कहा है कि, ‘प्रदेश में बच्चियां सुरक्षित नहीं है, अभी कुछ समय पहले हबीबगंज स्टेशन के पास हुई घटना की भोपाल भूल भी नहीं पाया है और फिर ये शर्मसार कर देने वाली दरिंदगी सामने आई है. महिलाओं को सुरक्षा नहीं दे पा रहे मुख्यमंत्री को तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए.

इस घटना के आरोपियों को पुलिस ने सबक सिखाने के लिए नायाब तरीका अपनाया. पुलिस ने एमपी नगर थाने से उनका जुलूस निकाला, इसके बाद सभी आरोपियों से उठक-बैठक लगवाई. पुलिस ने घटना में संलिप्त रहे युवकों की बीच सड़क पर छितर-परेड़ भी की. उसके बाद बीच चौराहे पर लड़कियों और महिलाओं ने भी उनकी चप्पलों से जबरदस्त ठुकाई की. सड़क पर तमाशबीनों की भीड़ लगी हुई थी. इस घटनाक्रम के बाद जुलूस एमपी नगर से बोर्ड चौराहे होते हुए वापिस थाने आ गया.

पुलिस अधिकारी राजेश चंदेल ने बताया की हम प्रदेश में कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए और महिला सुरक्षा को लेकर गंभीर है. उन्होंने कहा की घटना की शिकायत मिलने पर तत्काल कार्रवाई की गई है और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. चंदेल ने बताया की वारदात में शामिल आरोपियों का बीच बाज़ार जुलूस भी निकाला गया है ताकि इस प्रकार की गन्दी मानसिकता वाले लोगों में खौफ कायम हो, इससे अपराधियों में भय का संचार होगा और इस प्रकार की घटनाओं में कमी आएगी.

COMMENTS