पूरी तरह बनकर तैयार भारत की पहली महिला रोबोट रश्मि, रजनीकांत के साथ चाहती है काम करना

पूरी तरह बनकर तैयार भारत की पहली महिला रोबोट रश्मि, रजनीकांत के साथ चाहती है काम करना

दुबई की नागरिकता लेने वाली महिला रोबोट सोफिया का इंडियन संस्करण ‘रश्मि’ पूरी तरह से बनकर तैयार हो गई है. इसे बनाने में तक़रीबन दो साल छ महीने का वक्त ल...

अब दुधारू पशुओं की बनेगी ‘ऑनलाइन कुंडली’, आधार कार्ड की तरह दिए जा रहे टैग कार्ड
चूहों ने की एटीएम में सर्जिकल स्ट्राइक, कुतर दिए लाखों के नोट
धनतेरस: जानिए क्यूँ मनाया जाता है धनतेरस का त्यौहार, इसका महत्व और पूजा की विधि

दुबई की नागरिकता लेने वाली महिला रोबोट सोफिया का इंडियन संस्करण ‘रश्मि’ पूरी तरह से बनकर तैयार हो गई है. इसे बनाने में तक़रीबन दो साल छ महीने का वक्त लगा है. इसे टेलीविजन शो ‘इंडियाज़ गॉट टैलेंट’ के अगले लेवल के लिए सेलेक्ट किया गया है. रश्मि दुनिया की ऐसी पहली महिला रोबोट है जो हिंदी के साथ-साथ भोजपुरी भी बोल सकती है और इंसान की भावनाओं को भी समझ सकती है.रश्मि

राची के रंजीत श्रीवास्तव की बनाई रोबोट ‘रश्मि’ किसी भी तरह के सवालों के जवाब भी देती है. शो ‘इंडियाज़ गॉट टैलेंट’ में रश्मि ने सभी को अपने तरीके से हैलो किया. जब करण जौहर ने पूछा कि किस एक्टर के साथ आप मूवी करना चाहेंगी तो जवाब था रजनीकांत. इसके निर्माता रंजीत श्रीवास्तव ने कहा की इसके सारे पार्ट-पुर्जे फिट कर दिए गए हैं.

आपको बता दें की भारत में बनी ‘रश्मि’ रोबोट हैलो, हाय-बाय, नमस्ते, हैंड शेक के साथ ही यह फ्लाइंग किस देकर सामने वाले को उसी के भाषा में जवाब देने में पूरी तरह से एक्सपर्ट है. अब इसकी पहचान एक संवेदनशील दोस्त और कर्मी के तौर पर होगी. रंजीत ने बताया कि रश्मि दुनिया की पहली हिंदी भाषी, सच्चा अहसास देने वाली और महिला की तरह व्यवहार करने वाली रोबोट है, जो संजीदगी से बात करती है.रश्मि

इस महिला रोबोट को तैयार करने में तकरीबन 75 हज़ार का खर्च आया है. भारतीय नागरिकता के लिए इस रोबोट को विदेश मंत्रालय से भी जल्द ही सहमति पत्र प्राप्त हो जाएगा. हालांकि भारतीय मूल से होने के कारण इसे पहले ही भारत का नागरिक माना जा रहा है. आपको बता दें कि हांगकांग की कंपनी ने सोफिया नाम की मानव सदृश रोबोट बनाई है. जिसके तर्ज पर ही रांची में उसकी अगली पीढ़ी की रश्मि रोबोट बनी है.

COMMENTS