कैंसर के इलाज को लेकर वैज्ञानिकों की बड़ी सफलता, दो रूपये की इस चीज से कैंसर जड़ से खत्म

कैंसर के इलाज को लेकर वैज्ञानिकों की बड़ी सफलता, दो रूपये की इस चीज से कैंसर जड़ से खत्म

कैंसर (Cancer) बहुत ही खतरनाक बीमारियों में से एक हैं. जिसका इलाज करने के लिए लाखों डॉक्टर लंबे समय से प्रयास कर रहे हैं. लेकिन किसी को उसमें पूर्ण रू...

सलाह: गर्मियों में गलत खाना बिगाड़े आपकी सेहत, जरा संभलकर खाएं और तंदरुस्त रहें सालभर
बदलता मौसम लेकर आता है बिमारियों की सौगात, जानें इससे बचने के उपाय
स्वस्थ रहने के शॉर्टकट टिप्स, जिनके पास समय की कमी है वो इन टिप्स को जरुर फॉलो करें

कैंसर (Cancer) बहुत ही खतरनाक बीमारियों में से एक हैं. जिसका इलाज करने के लिए लाखों डॉक्टर लंबे समय से प्रयास कर रहे हैं. लेकिन किसी को उसमें पूर्ण रूप से सफलता नहीं मिली थी. वैज्ञानिको ने इस भयानक बिमारी को जड़ से मिटने के लिए एक रास्ता ईजाद कर लिया हैं. लाखों मरीज कैंसर (Cancer) से पीड़ित हैं. उनकी सबसे बड़ी समस्या ये थी की कैंसर (Cancer) से बचने का कोई रास्ता नजर नहीं आ रहा था, लेकिन अब उनको शायद कुछ राहत मिली होगी.Cancer

दुनियाभर में हजारों लोगों ने कैंसर (Cancer) के इलाज के लिए अरबों रुपए पानी की तरह बहा दिए है. फिर भी ऐसी कोई दवा नहीं मिली जो पूरी तरह जड़ से खत्म कर सके. सभी दवाइयां कैंसर (Cancer) को जड़ से खत्म करने में नाकाम साबित हुई है. फिलहाल बाजार में जो दवाइयां हैं वो केवल कैंसर (Cancer) को बढ़ने से रोक देती है.

अमेरिका के लडविंग इंस्टीट्यूट फॉर कैंसर रिसर्च में अमेरिकी वैज्ञानिकों के दल ने हाल ही में कुछ नए शोध को अंजाम दिया है. बता दें इस टीम की अगुवाई मशहूर कैंसर (Cancer) वैज्ञानिक और जॉन हॉप्किंग यूनिवर्सिटी के ऑनकोलॉजिस्ट (कैंसर विशेषज्ञ) डॉ. ची वान डैंग द्वारा की गई हैं. उनका कथन है की हम सालों तक रिसर्च कर चुके हैं और अब तक कैंसर (Cancer) के जो भी इलाज मौजूद हैं लेकिन वो काफी महंगे है. हमने जो शोध किया उसमें चौंकाने वाले नतीजे सामने आये है. कहा गया है की किचन में रखा बेकिंग सोड़ा कैंसर (Cancer) के लिए रामबाण औषधि हैं.

डॉ. डैंग के अनुसार, बेकिंग सोडा पर लंबी रिसर्च के पश्चात जो परिणाम हमने अब तक सिर्फ सुने थे वो प्रमाणित भी किये गए हैं. उन्होंने कहा की कैंसर (Cancer)का मरीज बेकिंग सोडा पानी के साथ मिलाकर पी ले तो कुछ ही दिनों में उसका प्रभाव सामने आने लगेगा. कीमोथेरेपी और महंगी दवाओं से भी तेजी से बेकिंग सोडा ट्यूमर सेल्स को न सिर्फ बढ़ने से रोकता है, बल्कि उसे खत्म करने की क्षमता भी रखता हैं.

डॉ. डैंग ने विस्तार से जानकारी देते हुए कहा की हमारे शरीर में हर सेकेंड लाखों सेल्स खत्म होते हैं और नए सेल्स उनकी जगह बन जाते हैं. लेकिन कई बार नए सेल्स के अंदर खून का संचार रुकने से ऐसे ही सेल्स एकसाथ इकट्ठा हो जाते है, जो धीरे-धीरे बढ़ते हैं. जिसको ट्यूमर कहते है. साथ ही साथ उन्होंने कहा की हमने ब्रेस्ट और कोलोन कैंसर (Cancer) के ट्यूमर सेल्स पर बेकिंग सोडा के प्रभाव की जांच की और हमने पाया कि बेकिंग सोडा वाला पानी पीने के बाद जिस तेजी से ट्यूमर सेल्स बढ़ रहे तो वो काफी हद तक थम गए.Cancer

ट्यूमर सेल्स में आक्सिजन पूरी तरह खत्म हो जाती है इसलिए मेडिकल की भाषा में इसे हिपोक्सिया कहा जाता हैं. हिपोक्सिया ही वह कारण है जिससे तेजी से उस हिस्से का पीएच लेवल गिरता है और ट्यूमर के ये सेल एसिड बनाने लगते हैं. इस एसिड की वजह से पूरे शरीर में भयंकर दर्द शुरू होने लगता हैं. यदि इन सेल्स का तुरंत इलाज न किया जाए तो ये कैंसर सेल्स में तब्दील हो जाते हैं. डॉ. डैंग के अनुसार, बेकिंग सोडा मिला पानी पीने से शरीर का पीएच लेवल भी मेंटेन रहता है और एसिड वाली समस्या न के बराबर हो जाती है. डॉ. डैंग का कथन हैं की कई बार कीमोथेरेपी के बावजूद भी ऐसे कैंसर सेल्स शरीर में रह जाते है, ध्यान न दिया जाए तो दोबारा से शरीर में कैंसर सेल्स बनाने लगते हैं जिनको T सेल्स के नाम से जानते हैं. टी-सेल्स को नाकाम मात्र बेकिंग सोडा से ही किया जा सकता है.

डॉ. वॉन डैंग ने कहा पहले भी ये बात आप सुन चुके होंगे की बेकिंग सोडा कैंसर (Cancer) समेत कई बीमारियों का इलाज हैं. लेकिन अब हम प्रमाणिक तौर पर कह सकते हैं की कैंसर (Cancer) का सबसे सस्ता और अच्छा इलाज बेकिंग सोडा से मिला पानी है. उन्होंने जानकारी देते हुए कहा की जिन लोगों पर हमने प्रयोग किए उन्हें दो हफ्तों पर पानी में बेकिंग सोडा मिलाकर दिया और सिर्फ 2 हफ्ते में उन लोगों के ट्यूमर सेल्स लगभग खत्म हो गए.