परीक्षा भवन में लेट पहुंचे तो नहीं दे पाएंगे परीक्षा, CBSE का बड़ा फैसला

परीक्षा भवन में लेट पहुंचे तो नहीं दे पाएंगे परीक्षा, CBSE का बड़ा फैसला

शिक्षा के क्षेत्र में सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन अर्थात् CBSE का बड़ा फैसला सामने आया हैं. कहा गया है की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा देने वा...

अगले 24 घंटों में भयानक रूप ले सकता है गाजा तूफ़ान, 12 kmph की रफ्तार से बढ़ रहा है आगे
पटाखे फोड़ने को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने फिर बदला नियम, अब दोनों समय फोड़ सकते हैं पटाखे
जिओ के नए ऑफर ने उड़ाई टेलिकॉम कंपनियों की नींद, 500 कैशबैक के साथ उतारा सबसे सस्ता प्लान

शिक्षा के क्षेत्र में सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन अर्थात् CBSE का बड़ा फैसला सामने आया हैं. कहा गया है की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा देने वाले छात्रों को परीक्षा हॉल में देरी से आने पर एंट्री नहीं दी जाएगी. CBSE द्वारा किये गये बदलावों को वर्ष 2019 की बोर्ड परीक्षा में लागू किया जा सकता है.

CBSE ने स्पष्ट किया है की परीक्षा भवन में लेट आने वाले छात्रों का किसी भी प्रकार का कोई बहाना नहीं सुना जाएगा. बहाना चाहे ट्रैफिक में फंसकर लेट होने का हो या कोई अन्य कारण ही क्यों न रहा हो. जो भी छात्र परीक्षा भवन में देरी से पहुंचेगे उनको परीक्षा हॉल में एंट्री नहीं दी जाएगी. सभी छत्रों को निर्धारित समय पर ही परीक्षा हॉल भवन में प्रवेश की अनुमति होगी, छात्र द्वारा की गई देरी एक मिनिट की हो या उससे अधिक उसके लिए परीक्षा भवन के गेट नहीं खुलेंगे.

CBSE के इस निर्णय के पीछे का मकसद नकल को पूरी तरह से रोकना और परीक्षा को ज्यादा सुरक्षित करना है. मानव संसाधन विकास मंत्रालय से जुड़े सूत्रों के मुताबिक इनक्रिप्टेड प्रश्न-पत्र और इस तरह के कदमों का उद्देश्य परीक्षा को और सुरक्षित करना है ताकि किसी भी समय किसी भी तरह की पेपर लीक और नकल की कोई गुंजाइश ही न रहे.

आपकी जानकारी के लिए बता दें की अभी परीक्षा हॉल 9.30 बजे खुल जाता है. जिसके बाद 10.15 बजे तक छात्रों को प्रश्न-पत्र दे दिये जाते हैं, वहीं 15 मीनट छात्रों को प्रश्न-पत्र पढ़ने का भी दिया जाता है. इसके पश्चात परीक्षा 10: 30 बजे शुरू हो जाती है. वहीं दूसरी और मार्च और अप्रैल तक परीक्षा हॉल में लेट एंट्री की इजाजत 11 बजे और इमरजेंसी एंट्री 11: 15 तक निर्धारित थी.cbse

सीबीएसई द्वारा आयोजित CAT, JEE और NEET की परीक्षा में एक निश्चित समय तय किय जाता है. जिसे हर छात्र को फॉलो करना अनिवार्य होता है. परीक्षाओं में देरी से एंट्री करने वालों को परीक्षा हॉल में जाने की अनुमति नहीं दी जाती है. सीबीएसई के अनुसार अब परीक्षा में एंट्री को लेकर जो समय तय किया जाएगा उसके पश्चात किसी भी हाल में एंट्री नहीं दी जाएगी. CBSE की और से  जल्द ही इस पर एक सर्कूलर भी जारी किया जायेगा.

बनाये गये कड़े नियमों से लगता है की 10वीं-12वीं के पेपर लीक होने के बाद सीबीएसई प्रश्न-पत्रों को लेकर किसी भी तरह की लापरवाही नहीं चाहता हैं. अगले वर्ष से आयोजित होने वाली परीक्षा में इनक्रिप्टेड प्रश्न-पत्रों का इस्तेमाल होगा. प्राप्त जानकारी के अनुसार, ये प्रश्न पत्र परीक्षा से केवल 30 मिनट पहले ईमेल के जरिए भेजे जायेंगे.

COMMENTS