कंपनी ने किया सैलरी देने से इनकार, पूर्व कर्मचारी ने कंपनी को सबक सिखाने के लिए उठाया ये कदम

कंपनी ने किया सैलरी देने से इनकार, पूर्व कर्मचारी ने कंपनी को सबक सिखाने के लिए उठाया ये कदम

मुम्बई पुलिस ने एक 32 साल के सॉफ्टवेयर इंजीनियर को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इस गिरफ्तारी के पीछे जो वजह बताई है वो काफी हैरान कर देने वाली है. युवक ...

अमृतसर हमले पर आप नेता के विवादित बोल, कहा- सेनाध्यक्ष ने कराया होगा हमला
इन्हें कहते हैं अच्छे दिन, इस राज्य के हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी नौकरी, कर्ज़ भी होगा माफ़
भविष्य में होने वाली घटनाओं का पूर्वाभास और आत्म शक्ति जगाने का अचूक सूत्र

मुम्बई पुलिस ने एक 32 साल के सॉफ्टवेयर इंजीनियर को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इस गिरफ्तारी के पीछे जो वजह बताई है वो काफी हैरान कर देने वाली है. युवक का नाम दीपेश कुमार है. पुलिस की पूछताछ में युवक ने ऐसा करने के पीछे जो वजह बताई वो बेहद हैरान करने वाली थी. दीपेश पर आरोप है की उसने कंपनी की दो वेबसाइटों को हैक (Hack the website) किया है.

Hack the website

पुलिस के अनुसार दीपेश कुमार को कंपनी की दो वेबसाइट को हैक (Hack the website) करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.  अधिकारीयों ने बताया कि दीपेश ने 2016 में क्लॉस वॉरन फिक्सचर प्राइवेट कंपनी से इस्तीफा दे दिया. दीपेश के मुताबिक कंपनी ने दीपेश को उसकी बताया सैलरी देने से इंकार कर दिया. बकाया सैलरी करीब 1.25 लाख रुपए थी. बकाया सैलरी भुगतान नहीं किए जाने पर कंपनी के सीनियर अधिकारियों के साथ दीपेश की लड़ाई हो गई.

जब काफी प्रयास के बाद भी कंपनी ने उसकी बकाया सैलरी का भुगतान नहीं किया तो दीपेश ने कंपनी को सबक सिखाने के लिए उसकी वेबसाइट हैक करने की प्लानिंग कर ली. दीपेश ने कंपनी की 19 वेबसाइटों में से 2 अहम वेबसाइटों को हैक कर लिया. जब कंपनी को इसकी सूचना मिली तो उन्होंने फौरन पुलिस को इसकी जानकारी दी. अगस्त 2018 में इस मामले में केस दर्ज किया गया, जिसके बाद आईटी सेल ने तकनीकी सबूतों के आधार पर दिपेश को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने आईटी एक्ट के अंतर्गत आरोपी दिपेश पर मामला दर्ज कर लिया है.

COMMENTS

WORDPRESS: 1
  • comment-avatar

    nyc post bhai