दोस्त की नाराज़गी का असली कारण

दोस्त की नाराज़गी का असली कारण

कल मेरा एक जिगरी यार मुझ से नाराज़ हो गया….. बेतहाशा नाराज़।।। गलती मेरी ही थी ….. वजह भी बड़ी वाजिब थी। बात ये हुई कि उनकी पत्नी यानी हमारी ...

सरकार का बड़ा फैसला, इन इलाकों में बंद होगी whatsapp कॉलिंग, जानिये कौन से हैं वो क्षेत्र
बाल-ब्रह्मचारी हनुमान थे विवाहित, दुनिया के एकमात्र इस मंदिर में विराजमान है पत्नी के साथ
शादी में बारातियों को दिया ऐसा शगुन जिसे देखने-सुनने वाले रह गए दंग, चारों तरफ हो रही प्रशंसा

कल मेरा एक जिगरी यार मुझ से नाराज़ हो गया….. बेतहाशा नाराज़।।।

गलती मेरी ही थी ….. वजह भी बड़ी वाजिब थी।

बात ये हुई कि उनकी पत्नी यानी हमारी प्रिय भाभी जी दुर्घटनाग्रस्त हो गईं। एक कोई अस्थि (हड्डी) टूट गयी थी।

एक प्रसिद्ध अस्थिरोग विशेषज्ञ से संपर्क व परामर्श हुआ।

आपरेशन होगा ये तय हो गया।
दोस्त टेंशन में था ।

मैंने पूछा खर्चा तो काफ़ी हो जाएगा ना ?

हां… दोस्त ने सर हिलाया।।

मैंने फिर पूछा : लाखों में ?

दोस्त ने फिर हाँ कहा…..।

बस यहीं मैं गड़बड़ कर बैठा ….. जब मज़ाक में ….. दोस्त का टेंशन दूर कर के उसे हंसाने के लिए मुंह से निकल गया कि …… इतने में तो दूसरी आ जाती यार ।।

मेरा दोस्त भड़क गया ।

यार का गुस्सा होना तो बनता ही है….ऐसे टेंशन वाले माहौल में…..

और दांत भींच के बोला ” .. कमीने……
.
.
.
.
.
.
.

अब बता रहा है जब
50% एडवांस जमा करवा दिये हैं
??????

आखिरकार मोदी का चैलेन्ज स्वीकार कर लिया राहुल गाँधी ने, खुले मंच से यूँ दिया जवाब