चुनाव आयोग ने दी पीएम मोदी को क्लीन चिट, राष्ट्र के नाम संबोधन से आचार संहिता का उल्लंघन नहीं

चुनाव आयोग ने दी पीएम मोदी को क्लीन चिट, राष्ट्र के नाम संबोधन से आचार संहिता का उल्लंघन नहीं

बुधवार को पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन किया था. जिसको लेकर कुछ पार्टियों ने चुनाव आयोग में शिकायत की थी. आज मामले की जांच के बाद चुनाव आयोग (Ele...

अमेरिका ने दिखाया भारत से मित्रता का दम, पाकिस्तान को दिया ये बड़ा झटका
मिशन शक्ति: अंतरिक्ष महाशक्ति बनने वाला दुनिया का चौथा देश बना भारत, जानिए इसकी ख़ास बातें
सर्वे का दावा: पीएम मोदी की लोकप्रियता में आई गिरावट, राहुल की रेटिंग में हुआ इतना सुधार

बुधवार को पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन किया था. जिसको लेकर कुछ पार्टियों ने चुनाव आयोग में शिकायत की थी. आज मामले की जांच के बाद चुनाव आयोग (Election Commission) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मिशन शक्ति की घोषणा के संबोधन को आचार संहिता का उल्लंघन नहीं माना है. शुक्रवार को मामले पर बोलते हुए चुनाव आयोग ने कहा कि पहली नज़र में प्रधानमंत्री के सम्बोधन के तथ्यों से चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन नहीं है.

चुनाव आयोग (Election Commission) ने कहा कि अपने सम्बोधन में प्रधानमंत्री ने न अपनी पार्टी का जिक्र किया और न मतदाताओं से अपने पक्ष में वोट देने की अपील की. हालाँकि, चुनाव आयोग की कमेटी जांच कर रही है की क्या मीडिया के सरकारी माध्यम का उल्लंघन हुआ है की नहीं. चुनाव आयोग ने सरकारी मीडिया संस्थानों ने इस मामले में जवाब मांगा है.Election Commission

आपको बता दें की प्रधानमन्त्री ने बुधवार को ‘मिशन शक्ति’ के रूप में देश की बड़ी उपलब्धि के बाद राष्ट्र के नाम संबोधन किया था. जिसके बाद विपक्ष की ओर से चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज कराई गई थी. इस शिकायत में कहा गया था कि आचार सहिंता लागू होने के बाद भी प्रधानमंत्री मोदी ने टीवी पर प्रचार किया. विपक्ष की शिकायत सुनने के बाद आयोग ने चुनाव आयुक्‍त के नेतृत्‍व में एक पैनल का गठन किया था. जिसने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण की जांच की.

COMMENTS