फिर हुआ एक और बुराड़ी कांड- हिल गया देश, झारखंड में एक ही परिवार के 6 लोगों ने दी जान

फिर हुआ एक और बुराड़ी कांड- हिल गया देश, झारखंड में एक ही परिवार के 6 लोगों ने दी जान

हाल ही में दिल्ली में हुए बुराड़ी कांड ने देश को हिलाकर रख दिया था. पुलिस अभी उसे सुलझा भी नहीं पाई कि ऐसा ही एक और कांड हो गया है. दूसरी घटना झारखंड क...

फिर हुआ बुराड़ी जैसा खौफनाक काण्ड, काले जादू के चक्कर में पुरे परिवार ने दी जान
बुराड़ी कांड: चार महीने बाद आई सच्चाई सामने, साइकोलॉजिकल अटोप्सी रिपोर्ट में हुआ बड़ा खुलासा
बुराड़ी कांड: आ गई पोस्टमार्टम रिपोर्ट, खुल गया 10 लोगों की मौत का रहस्य

हाल ही में दिल्ली में हुए बुराड़ी कांड ने देश को हिलाकर रख दिया था. पुलिस अभी उसे सुलझा भी नहीं पाई कि ऐसा ही एक और कांड हो गया है. दूसरी घटना झारखंड के हजारीबाग जिले की है जहाँ एक ही परिवार के छह सदस्यों की मौत ने एक बार फिर देश को हिलाकर रख दिया है. घटना शनिवार देर रात की है. घटना की शुरूआती जांच में मौत की वजह कर्ज़ बताई जा रही है लेकिन परिवार की हत्या की आशंका से भी इंकार नहीं किया जा रहा है.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक एक ही परिवार के छः लोगों में से एक बच्चे की तेजधार हथियार के हत्या की गई है जबकि एक महिला की हत्या गला घोंटकर की गई है. एक बच्ची को जहर देकर मारागया है वहीँ दो लोगों ने फांसी लगाकर जान दे दी. अनुमान लगाया जा रहा है की सबकी हत्या के बाद परिवार के मुखिया ने खुद छत से छलांग लगाकर अपनी जान दे दी.

पुलिस को जांच के दौरान वहां से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है. लिफाफे में लाल रंग से लिखा गया है की हम अमन को फांसी पर नहीं लटका सकते थे इसलिए उसकी हत्या की है. सुसाइड नोट में लिखा है की, ‘बीमारी+दुकान बंद+दुकानदारों का बकाया न देना+बदनामी+कर्ज= तनाव (टेंशन)= मौत.’ घटना झारखण्ड के हजारीबाग के खजांची पोंड के पास स्थित CDM अपार्टमेंट की है. घटना की सुचना मिलने के बाद इलाके में हडकंप मच गया.

पुलिस का कहना है की सुरुआती जांच में ये मामला आत्महत्या का लग रहा है लेकिन पुलिस हत्या की आशंका से भी इन्कार नहीं कर रही है. कहा जा रहा है कि एक साथ छह लोगों की मौत के इस मंजर से ऐसा लगता है कि किसी ने इन सबकी हत्या कर दी है. पुलिस का कहना है की अभी कुछ भी नहीं कहा जा सकता, जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी. गौरतलब है की हाल ही में दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों ने सामूहिक रूप से खुदकुशी कर ली थी.