बिल्‍डर के लड़के की दरियादिली,फ्रेंडशिप डे मनाने के लिए छात्र ने गरीब दोस्तों में बाँट दिए 46 लाख रूपए

बिल्‍डर के लड़के की दरियादिली,फ्रेंडशिप डे मनाने के लिए छात्र ने गरीब दोस्तों में बाँट दिए 46 लाख रूपए

फ्रेंडशिप डे के अवसर पर सभी अपने दोस्तों पर खूब खर्चा करते हैं और अपनी पहुँच के अनुसार गिफ्ट भी देते है और सारे दोस्ते मिलकर फ्रेंडशिप डे को सेलिब्रेट...

अगर आपके पास भी है 2000 रूपए का कटा-फटा नोट तो अभी जान लें, RBI ने बदल दिए हैं ये नियम
बच्चे ने पूछा क्यों होता है Pdf का उपयोग? कोई नहीं दे पाया जवाब, यहाँ जाने Pdf की पूरी जानकारी
बड़ी खबर: श्रीनगर में बीएसएफ कैंप पर फिदायीन हमला, एअरपोर्ट उड़ाने की थी योजना

फ्रेंडशिप डे के अवसर पर सभी अपने दोस्तों पर खूब खर्चा करते हैं और अपनी पहुँच के अनुसार गिफ्ट भी देते है और सारे दोस्ते मिलकर फ्रेंडशिप डे को सेलिब्रेट करते हैं. लेकिन मध्यप्रदेश के जबलपुर में फ्रेंडशिप डे के मौके पर कुछ ऐसा हुआ जिसने हर किसी को हैरान कर दिया. फ्रेंडशिप डे के दिन दसवीं में पढ़ने वाले एक छात्र ने अपनी क्लास के सभी मित्रों को 46 लाख रूपए बाँट दिए. उसने अपने साथ पढने वाले सभी गरीब दोस्तों को नकद रूपए के रूप में बड़ी रकम भेंट में दे दी.

friendship day gift

friendship day

दरअसल, इस स्टूडेंट के पापा एक बड़े बिल्डर हैं और उन्हें प्रॉपर्टी बेचने के बाद ये पैसे मिले थे. उन्होंने उन पैसों को घर में लाकर अलमारी में सुरक्षित रख दिया. लेकिन उनके बेटे ने उन पैसों को अलमारी से चुराकर अपने दोस्तों में बाँट दिए. छात्र का कहना था की उसके मित्र गरीब है इसलिए उसने उनको फ्रेंडशिप डे पर तोहफा दिया है. उसने अपने एक मित्र जो दिहाड़ी मजदूर का बेटा है उसे 15 लाख रूपए दिए और एक दुसरे दोस्त, जो उसका होमवर्क करता था उसे 3 लाख रूपए दे दिए. यही नहीं, उसने हर क्लासमेट को खाली हाथ नहीं जाने दिया. यहां तक की करीब 35 बच्चों को स्मार्टफोन और सिल्वर ब्रेसलेट जैसे महंगे गिफ्ट दिए.

friendship day gift

friendship day gift

अलमारी से रूपए गायब होने के बाद बच्चे के पापा ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज़ करवाई. पुलिस जांच में पता चला की उन्हीं के बच्चे ने पैसों को चुराया और दोस्तों में बांट दिए हैं. अब पुलिस पैसे रिकवर करने की कोशिश में हैं. पिता ने पुलिस को उन बच्चों की लिस्ट दी है जिनको बच्चे ने पैसे बांटे हैं. पुलिस उनके संपर्क करने की कोशिश कर रही है.

 

पुलिस अधीक्षक बीएस तोमर ने बताया की बच्चे के पिता ने उन बच्चों की लिस्ट दी है जिनको पैसे बांटे गए हैं. जिन 5 स्टूडेंट्स को सबसे ज्यादा पैसा मिला है. उनके माता-पिता को तलब कर दिया गया है और 5 दिन में पैसे वापस करने को कहा है. बच्चे नाबालिग हैं इसलिए उन पर कोई केस फाइल नहीं किया गया है. आपको बता दें की पुलिस ने अब तक करीब 15 लाख रुपये रिकवर किये हैं और बाकी पैसे निकालने की कोशिश कर रही है.