अगर आप भी करते हो गाड़ी चलाते समय फ़ोन पर बात तो हो जाएँ सावधान, अब कोर्ट करेगा आपका ‘इलाज’

अगर आप भी करते हो गाड़ी चलाते समय फ़ोन पर बात तो हो जाएँ सावधान, अब कोर्ट करेगा आपका ‘इलाज’

अगर आप भी गाड़ी चलाते समय फ़ोन पर बात करने के आदी हैं तो या तो जल्द ही अपनी ये आदत सुधार लें या फिर गाड़ी चलाना बंद कर दीजिये वरना कोर्ट ने आपका ‘इलाज’ क...

भगवान को खुश करने के चक्कर में कर रहे धर्म का अपमान, दे रहे है मौत को निमन्त्रण
आपका सबसे बड़ा दुश्मन है सोशल मीडिया, अभी संभल जाओ वरना भुगतने पड़ेंगे गंभीर परिणाम
अब धर्म का प्रचार करने पर भी देना होगा टैक्स, धार्मिक किताबों और लंगर पर लगेगा GST

अगर आप भी गाड़ी चलाते समय फ़ोन पर बात करने के आदी हैं तो या तो जल्द ही अपनी ये आदत सुधार लें या फिर गाड़ी चलाना बंद कर दीजिये वरना कोर्ट ने आपका ‘इलाज’ करने का आदेश दे दिया है. राजस्थान हाई कोर्ट ने गाड़ी चलाते वक्त बात करने वालों का ड्राइविंग लाइसेंस रद्द करने का आदेश जारी किया है. ये आदेश हाई कोर्ट की जोधपुर बेंच ने ट्रैफिक पुलिस को दिया है और कहा है की ऐसा करने वालों की तस्वीरें लेकर वो उस क्षेत्र के ट्रांसपोर्ट ऑफिस को भेजें ताकि उनका ड्राइविंग लाइसेंस कैंसिल किया जा सके.

राजस्थान हाईकोर्ट ने इस आदेश को एडिशनल पुलिस कमिश्नर (ट्रैफिक) द्वारा उपलब्ध करवाई गई जानकारी के बाद दिया गया है. उन्होंने कोर्ट को कहा था कि लोग गाड़ी चलाते समय फ़ोन का उपयोग बहुतायत में करते हैं. जानकारी में आगे कहा गया कि ड्राइविंग के समय मोबाइल के प्रयोग की पाबंदी है लेकिन फिर भी लोग ऐसा करते हैं. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल गाड़ी चलाते हुए मोबाइल के प्रयोग से देशभर में 2,138 लोगों की जानें चली गईं. हालाँकि असली आंकड़ा इससे कहीं अधिक है.

अभी हाल ही में कुशीनगर में एक स्कूल बस रेलवे क्रॉसिंग पार करते वक्त ट्रेन की चपेट में आ गई जिससे 13 स्कूली बच्चों की जानें चली गईं. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार इस घटना के भी गाड़ी चलाते हुए ड्राइवर द्वारा फोन पर बात की जा रही थी. इस प्रकार की घटनाओं पर लगाम लगाने हेतु राजस्थान हाईकोर्ट का ये कदम सराहनीय है.

COMMENTS