सावधान- गन्ने का जूस पीने जा रहे हैं, तो पहले पढ़ लें ये आर्टिकल वरना हो जायेंगे बीमार

सावधान- गन्ने का जूस पीने जा रहे हैं, तो पहले पढ़ लें ये आर्टिकल वरना हो जायेंगे बीमार

गर्मियों का सीजन शुरू होते ही बाज़ार में दुकानों और रेहड़ियों पर गन्ने के जूस के लिए भीड़ नज़र आनी शुरू हो जाती है. हो भी क्यों नहीं, गन्ने का जूस सेहत के...

Independence Day 2018: पीएम मोदी दे सकते है देशवासियों को तोहफा, इन मुद्दों पर रहेगा फोकस
रोचक घटना: जब भारत-पाकिस्तान के बीच एक ‘आम’ की वजह से उपजा विवाद
आपको करोड़पति बनाने एक बार फिर आ रहा है ‘कौन बनेगा करोड़पति’ गेम शो, ऐसे करें अप्लाई

गर्मियों का सीजन शुरू होते ही बाज़ार में दुकानों और रेहड़ियों पर गन्ने के जूस के लिए भीड़ नज़र आनी शुरू हो जाती है. हो भी क्यों नहीं, गन्ने का जूस सेहत के लिए फायदेमंद जो होता है. चिलचिलाती गर्मी में जूस ही दिलोदिमाग को ठंडक पहुंचाता है. जोंडिस या डीहाईड्रेशन से बचाने में गन्ने के रस का कोई विकल्प नहीं है. इसका रस एनीमिया और कैंसर जैसी घातक बिमारियों से बचाने के साथ-साथ गर्भवती महिलाओं के लिए भी बहुत ही फायदेमंद माना जाता है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि गन्ने के जूस के फायदे के साथ कुछ नुक्सान भी है? कुछ सावधानियां रखकर आप इस नुक्सान से बच सकते हैं-

गन्ने की गुणवत्ता

जूस बनवाने से पहले ध्यान से देख लें की गन्ने को अच्छी तरह से साफ़ किया गया है और गन्ने पर काले रंग का मैल जैसा अपशिष्ट पदार्थ तो नहीं जमा हुआ है. इसके साथ ही आपके जूस के लिए छांटे गए गन्ने में कीड़ा (लाल रंग का धब्बा या पूरा गन्ना ही लाल रंग का) तो नहीं लगा हुआ है. सबसे पहले देख लें कहीं आपको सड़े गन्ने का रस तो नहीं दिया जा रहा, असल में सड़े या खराब गन्ने का रस आपको फायदे की जगह नुकसान पहुंचा सकता है. ऐसे जूस के सेवन से आपको उल्टियां या पेट दर्द की दिक्कत हो सकती है. अतः गन्ने का जूस पीते वक्त गन्ने का ख्याल अवश्य रखें.

मशीन की सफाई

साथ ही मशीन को भी ध्यान देख लें कि कहीं मशीन का तेल ना टपकता हो. दरअसल जूस निकलने की मशीन में एक काले रंग के बेकार तेल का प्रयोग किया जाता है. अगर वो तेल गलती से आपके पेट में चला जाये तो इसका बुरा असर हमारे स्वास्थ्य पर साफ देखने को मिल सकता है, अतः जूस पीने से पहले देख लें की मशीन अच्छी तरह से साफ़ की हुई हो.

ताज़ा जूस

जब जूस पीना हो तो ताज़ा और अपनी आँखों के सामने निकलवाकर ही पीयें. पहले का निकाला हुआ और बासी जूस ना पीयें. फ्रीज़ किया हुआ जूस आपको फायदे की बजाये नुक्सान ही करेगा. ज्यादा देर तक जूस के पड़े रहने से उसमें बीमारियाँ पनप सकती है और आपके पीने से आपको संक्रमण का खतरा हो सकता है.

कितनी मात्रा में पियें

गन्ने का जूस होता ही बहुत स्वादिष्ट है, बस इसी वजह से कई बार हम दिन में कई गिलास जूस पी जाते हैं जो की सरासर गलत है. हालाँकि इसके हमें तुरंत कोई दुष्परिणाम नज़र नहीं आते हैं लेकिन हमें याद रखना चाहिए कि एक स्वस्थ और व्यस्क आदमी के लिए दिन में दो गिलास जूस ही काफी होता है, बशर्ते हमें किसी ख़ास वजह से डॉक्टर द्वारा बताया ना हो.

अन्य ख़ास बातें

गन्ने का जूस पीते वक्त जूस में एक चुटकी नमक जरूर मिला लें और अगर हो सके तो सेंध नमक ही मिलाएं. जहाँ तक हो सके गन्ने के जूस में बर्फ का इस्तेमाल ना करें और ना ही जूस वाले को करने दें. गंदे पानी से बनी बर्फ से गला ख़राब हो सकता है या डीहाईड्रेशन हो सकता है.