गौरी हब्बा: गुरूवार को है हरितालिका तीज, जानिये पूजा और मुहूर्त से जुड़ी विशेष जानकारी

गौरी हब्बा: गुरूवार को है हरितालिका तीज, जानिये पूजा और मुहूर्त से जुड़ी विशेष जानकारी

हिन्दू धर्म में बहुत से व्रत और त्यौहारों का वर्णन मिलता है जिनमें से कुछ व्रत और त्यौहारों की ख़ास तौर पर महिलाओं के लिए विशेष मान्यता है. कुछ त्यौहार...

Paytm यूजर्स के लिए खुशखबरी, अब कर सकेंगे वॉलेट से वॉलेट में फंड ट्रांसफर
कांग्रेस का घोषणापत्र: पैट्रोल-डीज़ल समेत बिजली आधे दामों पर और युवाओं को स्मार्टफोन और लैपटॉप
जानिए कब शुरू हो रहे हैं महानवरात्र, देवी शक्ति के नौ रूप और उनकी उपासना के दिन

हिन्दू धर्म में बहुत से व्रत और त्यौहारों का वर्णन मिलता है जिनमें से कुछ व्रत और त्यौहारों की ख़ास तौर पर महिलाओं के लिए विशेष मान्यता है. कुछ त्यौहार जहाँ महिलाओं को अखंड सौभाग्य का आशीर्वाद देते है वहीँ कोई त्यौहार बच्चों को दीर्घायु. हिन्दू धर्म में हरितालिका तीज का अपना विशेष महत्व है.हरितालिका

हरितालिका तीज देवाधिदेव महादेव और माता गौरी को समर्पित त्यौहार है और इस दिन इनकी पूजा करने का विधान है. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार हरितालिका तीज का व्रत करने से सुहागिन स्त्रियों का सौभाग्य अखण्ड रहता है और कुँवारी लड़कियों को मनचाहा वर मिलता है. इस त्यौहार को उत्तर भारत में हरितालिका तीज के नाम से जाना जाता है वहीँ, इसे दक्षिण भारत में इसे गौरी हब्बा के नाम से भी जाना जाता है.हरितालिका

हिन्दू पंचांग के अनुसार हरितालिका तीज हर साल भाद्रपद माह की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाता है. इस बार हरतालिका तीज अंग्रेजी कैलंडर के अनुसार 12 सितम्बर को पड़ रही है.हरितालिका

हरतालिका तीज व्रत के लिए शुभ मुहूर्त सुबह 6: 15 मिनट से शुरू होकर सुबह 8: 00 तक रहेगा. वहीँ, शाम के पूजन का शुभ समय 7: 00 बजे से लेकर 8: 00 तक है. इस त्यौहार का व्रत रखने के लिए सारा दिन निर्जल और निराहार रहना पड़ता है.

COMMENTS