बहु को अकेला देखकर घर में घुसा चोर, रसोई में ले जाकर बहु ने किया ऐसा की भाग खड़ा हुआ चोर

बहु को अकेला देखकर घर में घुसा चोर, रसोई में ले जाकर बहु ने किया ऐसा की भाग खड़ा हुआ चोर

नारी कोमल है, लेकिन कमजोर नहीं. इस बात को एक बार फिर राजस्थान के प्रतापगढ़ की एक बहु ने साबित कर दिखाया है. मामला प्रतापगढ़ के धमोतर का है जहाँ एक महि...

होली विशेष: आपको विरासत में मिली है इतनी कीमती धरोहर, सुरक्षित तरीके से खेलकर बनायें यादगार
इंडोनेशिया विमान हादसे से दहल उठी दुनिया, जानिए क्या है इस दुर्घटना से भारत का कनेक्शन
खतरे में LIC, सरकार के इस कदम से डूब सकती है LIC की नैय्या और लोगों की बीमा की रकम

नारी कोमल है, लेकिन कमजोर नहीं. इस बात को एक बार फिर राजस्थान के प्रतापगढ़ की एक बहु ने साबित कर दिखाया है. मामला प्रतापगढ़ के धमोतर का है जहाँ एक महिला को अकेला देखकर उनके घर में चोर घुस आया. लेकिन यहाँ चोर के साथ कुछ ऐसा घटित हुआ की चोर को उलटे पाँव वापिस भागना पड़ा. 27 वर्षीय दीपिका ने चोरों से डरने की बजाय उनका बहादुरी से सामना किया जिसकी आसपास के इलाके में खूब चर्चा हो रही है और लोग दीपिका की बहादुरी को सलाम कर रहे हैं.

अंतिम संस्कार के बाद घर लौटी ‘मृत’ महिला, पुलिस के छूटे पसीने

मामले के अनुसार धमोतर निवासी सुशील शर्मा किसी काम से घर से बाहर गया हुआ था. इसके बाद सुशील की पत्नी दीपिका घर पर अकेली थी. इसी दौरान अचानक घर में चोर घुस आए. चोरों की संख्या दो थी जिनमें से एक बाहर बाइक पर खड़ा रहा तो दूसरा अंदर घर में घुस गया. उसने अंदर आते ही उसने दीपिका के गले पर चाकू रख दिया और सारे पैसे और गहने उसे देने को कहा. दीपिका ने चतुराई दिखाई और चोर को कहा कि उसकी सास अलमारी की चाबी रसोई में छिपा कर रखती है.

बहु

घर बनाने के लिए ईंटों के प्रयोग पर लग सकता है बैन, अब इस मैटिरियल से बनेगें घर

ऐसा कह कर दीपिका उसे रसोई में ले गई. यहाँ चोर रसोई में रखे खाने-पीने के सामान को देखकर उसे खाने लगा. इतने में ही मौका मिलते ही दीपिका ने चतुराई से मसाला दानी से मिर्च निकाल कर चोर की आँखों में डाल दी. इससे चोर घबरा गया और बाहर खड़े अपने साथी के साथ भाग खड़ा हुआ. घटना के बाद लोग बड़ी संख्या में इकठ्ठा हो गए और चोरों के सामने जान की बाजी लगा देने वाली दीपिका की बहादुरी को सलाम किया. इसके बाद लोगों ने स्थानीय प्रशासन से चोरों को पकड़ने की मांग की, लेकिन जिस तरह दीपिका ने हिम्मत दिखाई वह वाकई में सराहनीय है.