इन आठ राज्यों में हिन्दुओं को मिल सकता है अल्पसंख्यक का दर्जा, जल्द लिया जा सकता है फैसला

इन आठ राज्यों में हिन्दुओं को मिल सकता है अल्पसंख्यक का दर्जा, जल्द लिया जा सकता है फैसला

देश के आठ राज्यों में हिन्दुओं को जल्द ही अल्पसंख्यक का दर्जा मिल सकता है. बताया जा रहा है की आगामी 14 जून को राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग की बैठक होने व...

लाखों की टिकटें खरीदकर सपना चौधरी का इन्तजार करते रहे लोग, नहीं आई तो कर दिया केस
धनतेरस: जानिए क्यूँ मनाया जाता है धनतेरस का त्यौहार, इसका महत्व और पूजा की विधि
नए साल में किसानों को बड़ा तोहफा, फसलों पर सरकार ज्यादा MSP देने को तैयार

देश के आठ राज्यों में हिन्दुओं को जल्द ही अल्पसंख्यक का दर्जा मिल सकता है. बताया जा रहा है की आगामी 14 जून को राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग की बैठक होने वाली है जिसमें इस बाबत फैसला लेने की पूरी संभावना है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बीजेपी के एक नेता अश्विनी उपाध्याय ने अर्जी दाखिल करके आठ राज्यों में हिन्दुओं को अल्पसंख्यक का दर्जा देने की मांग सुप्रीम कोर्ट से की थी. अर्जी में जिन राज्यों में हिन्दुओं को अल्पसंख्यक का दर्जा देने की मांग की गई है उनमें जम्मू-कश्मीर, नागालैंड, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, लक्षद्वीप, मिजोरम, मणिपुर और शामिल है.

ट्राई का आदेश: एक महीने में कॉल दरें सार्वजनिक करें दूरसंचार कंपनियां, ग्राहक अपनी मर्जी से चुन सकेंगे प्लान

बीजेपी नेता नेता अश्विनी उपाध्याय ने कहा की इन राज्यों में हिन्दू अल्पसंख्यक है और ऐसे में उन्हें अल्पसंख्यकों को मिलने वाले सारे अधिकार दिए जाएँ. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि 2011 की जनगणना के मुताबिक जम्मू-कश्मीर में हिन्दूओं की संख्या 28 प्रतिशत, नागालैंड में 8 प्रतिशत, मेघालय में 11 प्रतिशत, अरुणाचल प्रदेश में 29 प्रतिशत, लक्षद्वीप में और  मिजोरम में मात्र 2.75 प्रतिशत, मणिपुर में 31 प्रतिशत और पंजाब में हिन्दू 38 प्रतिशत है.

इस बारे में जानकारी देते हुए याचिकाकर्ता ने बताया कि 14 जून को राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग की बैठक में इन आठ राज्यों में हिंदुओं को अल्पसंख्यक का दर्जा दिए जाने की मांग पर चर्चा की जाएगी. याचिकाकर्ता ने सुप्रीम कोर्ट से कहा था कि 23 अक्टूबर 1993 को नोटिफिकेशन जारी करके मुस्लिम समेत कुछ अन्य समुदाय के लोगों को अल्पसंख्यकों का दर्जा दिया गया था. उन्होंने 2011 के आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा की उपर्युक्त राज्यों में हिन्दू अल्पसंख्यक है परन्तु फिर भी अभी तक इन्हें अल्पसंख्यक का दर्जा नहीं दिया गया है.

अजब-गजब: अमेरिका के इस देश में मिलता है मात्र 59 पैसे प्रति लीटर पेट्रोल

COMMENTS