इस नौकरी के लिए आठ हज़ार उम्मीदवारों ने दी परीक्षा, एक भी नहीं हो सका पास, जानें क्या हुआ?

इस नौकरी के लिए आठ हज़ार उम्मीदवारों ने दी परीक्षा, एक भी नहीं हो सका पास, जानें क्या हुआ?

आज के समय में सभी अलग-अलग वैकेंसी के लिए आवेदन कर रहे है. परीक्षा परिणामों में कई बार बहुत ही कम उम्मीदवारों को हमने पास होते हुए देखा हैं. लेकिन अब ए...

सावधान: मौसम ने फिर बदली करवट, उत्तर भारत के इन इलाकों में जारी हुआ अलर्ट
100 के पार पहुंची इन पम्पों पर पेट्रोल की कीमतें, बंद हुई मशीनें- बुलाने पड़े इंजीनियर
आज की पूर्णिमा है कुछ विशेष, अगर कर लिया ये काम तो हो जाओगे मालामाल

आज के समय में सभी अलग-अलग वैकेंसी के लिए आवेदन कर रहे है. परीक्षा परिणामों में कई बार बहुत ही कम उम्मीदवारों को हमने पास होते हुए देखा हैं. लेकिन अब एक परीक्षा परिणाम आया है जिसमें परीक्षा देने वाले 8000 उम्मीदवारों में से एक भी पास नहीं हो पाया हैं. आपको आश्चर्य हो रहा होगा लेकिन ये सच हैं.परीक्षा परिणाम

गोवा सरकार की और से हाल ही में अकाउंटेंट पदों पर भर्ती के लिए आवेदन मांगे गए थे. इन पदों पर भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन किया गया. सरकार की और से अकाउंटेट के कुल 80 पदों के लिए भर्तियां निकाली गई थी जिसमें हिस्सा लेने वाले 8000 उम्मीद्वार थे. बड़े ही दुर्भाग्य की बात है की इस परीक्षा में कोई भी उम्मीद्वार उतीर्ण नहीं हो सका.

परीक्षा में उम्मीदवारों को पास होने के लिए मात्र 50% अंक ही पाने थे. अफ़सोस की एक भी उम्मीदवार इस सीमा तक अंक लाने में सफल नहीं हुआ. पीटीआई के मुताबिक, नाम जाहिर न करने की शर्त रखते हुए एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा की स्नातक उम्मीदवारों को इस परीक्षा में पास करने के लिए 100 में से कम से कम 50 अंक ही प्राप्त करने थे और कोई भी यह अंक लाने में सफल नही हो पाया हैं.

  • INDIAN NAVY ने कई पदों पर मांगे आवेदन, 25 अगस्त से आवेदन होंगे शुरू

गोवा के लेखा निदेशक ने एक अधिसूचना जारी की हैं की सात जनवरी को आयोजित इस प्रारंभिक परीक्षा में कोई भी उम्मीदवार सफल नहीं हो पाया. अधिकारी ने ये भी कहा की पेपर में कुल 100 अंकों की इस परीक्षा में अंग्रेजी, सामान्य ज्ञान और अकाउंट से संबंधित सवाल ही पूछे गए थे.

आम आदमी पार्टी के प्रदेश महासचिव प्रदीप पडगांवकर ने परीक्षा परिणाम देरी से जारी किये जाने पर आलोचना करते हुए कहा की गोवा विश्वविद्यालय के साथ-साथ वाणिज्य कॉलेजों के लिए भी यह बहुत ही शर्म की बात रही है की वहां से इस तरह से स्नातक पास होकर निकल रहे हैं.

COMMENTS