जल्द ही गिरफ्तार कर लिए जायेंगे PM मोदी के ‘गुरु’, नहीं मिलेगी सुरक्षा

जल्द ही गिरफ्तार कर लिए जायेंगे PM मोदी के ‘गुरु’, नहीं मिलेगी सुरक्षा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आध्यात्मिक गुरू होने का दावा करने वाले एक शख्स के खिलाफ पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज़ कर ली है और जल्द ही उसे अरेस्ट किया जा सक...

इन आठ राज्यों में हिन्दुओं को मिल सकता है अल्पसंख्यक का दर्जा, जल्द लिया जा सकता है फैसला
फेसबुक ला रहा है ऐसा गजब का फीचर, स्टेटस अपडेट कीजिये अब नए अंदाज़ में
हाई अलर्ट हरियाणा, सीमायें सील- सुरक्षा चाक चौबंद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आध्यात्मिक गुरू होने का दावा करने वाले एक शख्स के खिलाफ पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज़ कर ली है और जल्द ही उसे अरेस्ट किया जा सकता है. खुद को प्रधानमन्त्री मोदी का आध्यात्मिक गुरू होने का दावा करने वाले व्यक्ति का नाम पुलकित महाराज है. पुलिस ने उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है. हालाँकि, उसे अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया हैलेकिन जल्द ही उसे पूछताछ के लिए समन जारी किया जा सकता है.

इस मामले में एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीएमओ में असिस्टेंट डायरेक्टर के पद पर तैनात एक अधिकारी ने दिल्ली पुलिस के मुखिया अमूल्य पटनायक को संपर्क किया था, उन्होंने बताया था कि एक व्यक्ति फर्जी तरीके से खुद को पीएम मोदी का आध्यात्मकि गुरू बताता है, जिसके बाद आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई. अपनी शिकायत में अधिकारी ने कहा की आचार्य पुलकित महाराज उर्फ़ पुलकित मिश्रा खुद को प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी का आध्यात्मिक गुरू होने का दावा करता है.

मामला उस वक्त रंग पकड़ने लगा जब खुद को प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी का आध्यात्मिक गुरू बताने वाले पुलकित ने कला एवं संस्कृति विभाग से उसे सुरक्षा और आवास मुहैया कराए जाने की मांग कर डाली. इस बाबत जब पीएमओ से सम्पर्क किया गया तो पीएमओ ने उत्तर प्रदेश के सीतापुर के डीएम को एक पत्र जारी किया और खुद को इस मामले से किनारा कर लिया.

पीएमओ ने पत्र भेजकर साफ़ कर दिया की ये शख्स पीएम मोदी के नाम का गलत इस्तेमाल कर रहा है और पटनायक से इस मामले में जांच की अपील की. इसके बाद स्पेशल क्राइम ब्रांच की टीम को यह मामला सौंप दिया गया, जिसके बाद पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज कर ली है. इंसपेक्टर सत्यवान लाठवाल की अगुवाई में इस मामले की जांच शुरू कर दी गई है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0