जाटों की धमकी के बाद अब ‘पद्मावत’ के लिए हरियाणा के दरवाजे बंद, फिल्म को बैन करने वाला छटा राज्य बना हरियाणा

जाटों की धमकी के बाद अब ‘पद्मावत’ के लिए हरियाणा के दरवाजे बंद, फिल्म को बैन करने वाला छटा राज्य बना हरियाणा

संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत को लेकर मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है. रणवीर, दीपिका, शाहिद कपूर स्टारर संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती...

पद्मावत के बदले में ‘संजय लीला भंसाली’ की माँ पर फिल्म बनाएगी करणी सेना, काम शुरू
पद्मावती के बाद एक और फिल्म विवादों में, डायरेक्टर के हाथ काटने पर इनाम का ऐलान
पद्मावती के विरोधिओं को बड़ी धमकी, नाहरगढ़ किले पर लटकाई लाश, कहा हम पुतले नहीं जलाते

संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत को लेकर मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है. रणवीर, दीपिका, शाहिद कपूर स्टारर संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती, राजपूत समुदाय के विरोध के बाद से विवादों में है. सेंसर बोर्ड द्वारा पांच कट और पद्मावती से ‘पद्मावत’ नाम देकर हरी झंडी मिलने के बाद यह फिल्म 25 जनवरी को देशभर में रिलीज होने वाली है, लेकिन विवाद है कि पद्मावत का पीछा ही नहीं छोड़ रहे है. देशभर में विरोध के बाद अशांति और विवाद की संभावनाओं को देखते हुए कुछ राज्यों ने इसकी रिलीज़ पर प्रतिबंध लगा दिया है.

राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश के बाद अब हरियाणा ने भी इस फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगा दी है. मंगलवार को हुई कैबिनेट की बैठक में सर्व-सम्मति से निर्णय लिया गया की हालात को देखते हुए राज्य में कानून व्यवस्था के मद्देनज़र फिल्म को नहीं दिखाया जायेगा. जाट संगठनों, करणी सेना और अन्य विभिन्‍न संगठनों ने इसे सिनेमाघरों में प्रदर्शित नहीं करने देने की चेतावनी दी. करणी सेना के बाद फिल्म के विरोध में उतरे जाट संगठनों की धमकी के बाद मनोहर लाल सरकार ने फिल्म को राज्य में नहीं दिखाए जाने का फैसला लिया.

आपको बता दें कि करणी सेना ने अभी कुछ दिन पहले ही हरियाणा के हिसार में बैठक कर फिल्म के प्रदर्शन पर राज्य सरकार द्वारा रोक लगाने की मांग की थी. इसके बाद जाट संगठनों ने भी फिल्म को हरियाणा में रिलीज़ की परमिशन देने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी थी. सरकार ने फिल्म के प्रदर्शन के दौरान प्रदेश में हालत गंभीर होने और अशांति फैलने के डर से फिल्म पर रोक लगाना बेहतर समझा, लिहाजा पद्मावत को बैन करने वाला हरियाणा देश का छटा राज्य बन गया है.

हरियाणा सरकार के इस फैसले का सभी संगठनों से स्वागत किया है. करणी सेना सहित वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने बताया कि पूरा मंत्रिमंडल इस बात से सहमत है कि प्रदेश में तनाव बढ़ने की आशंका से सरकार का फैसला लोगों की भावनाओं के अनुरूप फैसला है. इस फिल्म पर विवादित बयान देने के कारण बीजेपी के प्रवक्ता के पद से हटाये गए सूरजपाल अमु ने भी मनोहर लाल सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है.

 

COMMENTS