मौसम अलर्ट: आंधी-तूफ़ान और बारिश की चेतावनी के बाद स्कूलों में छुट्टियाँ, डरे-सहमे से हैं लोग

मौसम अलर्ट: आंधी-तूफ़ान और बारिश की चेतावनी के बाद स्कूलों में छुट्टियाँ, डरे-सहमे से हैं लोग

उत्तर भारत के कई राज्यों में भारी बारिश और तेज आंधी-तूफ़ान की चेतावनी जारी होने के बाद सरकार अलर्ट हो गई है. एहतियात के तौर पर हरियाणा सरकार ने प्रदेश ...

बहुत खतरनाक है इन राज्यों के लिए अगले 72 घंटे, मौसम विभाग ने जारी की भारी बारिश की चेतावनी
मौसम: अब तक की रिपोर्ट, कहीं बारिश- कहीं ओले और कहीं बर्फबारी, अब आगे की रिपोर्ट
मौसम विभाग पर एफआईआर, किसानों को गलत पूर्वानुमान देने का आरोप

उत्तर भारत के कई राज्यों में भारी बारिश और तेज आंधी-तूफ़ान की चेतावनी जारी होने के बाद सरकार अलर्ट हो गई है. एहतियात के तौर पर हरियाणा सरकार ने प्रदेश के सभी सरकारी और गैर सरकारी स्कूलों में अगले दो दिनों तक छुट्टियाँ कर दी है. वहीँ, राजस्व और आपदा प्रबंधन विभाग को भी हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा गया है.

उल्लेखनीय है कि मौसम विभाग ने 7 और 8 मई को हरियाणा समेत उत्तर भारत के कई राज्यों में तेज तूफ़ान और बारिश की चेतावनी जारी की है. हरियाणा के शिक्षामंत्री रामविलास शर्मा ने प्रदेश के सभी सरकारी और निजी स्कूलों को अगले दो दिनों तक बंद रखने का आदेश दिया है. मौसम विभाग के अनुसार तेज तूफ़ान और बरसात के पूर्वानुमान से डरें नहीं बल्कि जागरूक रहें. मौसम विभाग के प्रवक्ता के अनुसार लोगों से सावधानी रखने की अपील की गई है. इस दौरान बच्चों, औरतों और बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें.

सरकार ने लोगों से कहा है कि इन दो दिनों के दौरान पेड़ों के नीचे सोने और पशु बाँधने से बचें. रात को सोने से पूर्व चूल्हे और तंदूर या किसी अन्य जगहों पर सुलगती आग को सावधानी पूर्वक बुझाकर सोएं. घर से बाहर काम करने वाले दिन ढलने के साथ ही घर लौट आयें और रात को सफ़र करने से बचें. छत पर या किसी ऊँची जगहों पर उड़ने वाली या गिर सकने वाली चीजों को हटा दें. रात को सोते समय टॉर्च आदि की व्यवस्था रखें.

मौसम विभाग के प्रवक्ता ने कहा कि किसानों से अपील की गई है की अपना अनाज और तुड़ी संभलकर रखें और दीवारों और मकान की छतों की मुंडेरों पर से गमले आदि हटा दें. तेज तूफान आदि के दौरान वृक्षों एवं खम्बों के गिरने की स्थिति में नजदीकी उप-तहसील या तहसील मुख्यालय अथवा लघु सचिवालय में सुचना करें. सरकार ने सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही अफवाहों पर ध्यान ना देने की भी अपील की.

यह भी पढ़ें: व्यायामशाला का उद्घाटन करने गए बीजेपी नेता को दिखाए काले झंडे, लापता बेटी मामले में कार्रवाही ना होने से थे नाराज

COMMENTS