मौत के आठ घंटों बाद अर्थी से उठ बैठी महिला, कहा- स्वर्ग घूम कर आई हूँ, यमराज गलती से ले गए थे

मौत के आठ घंटों बाद अर्थी से उठ बैठी महिला, कहा- स्वर्ग घूम कर आई हूँ, यमराज गलती से ले गए थे

मरने के बाद किसी इंसान तो क्या किसी भी जीव मात्र के जिन्दा होने की घटना असम्भव सी लगती है. लेकिन जब ऐसी घटना हकीकत में घटित हो जाती है तो लोग चाहे उसे...

बड़ी खबर: नवाज शरीफ को दस साल की जेल और 72 करोड़ जुर्माना, बेटी मरियम को भी 7 साल की सजा
आख़िरकार चीन ने ड़ोकलाम विवाद पर तोड़ी चुप्पी, कहा- कई दौर की बातचीत से निकला हल
सावधान: अधिक ठंडा पानी हो सकता है जानलेवा, बदल लें अपनी आदत- शरीर को होते हैं ये नुकसान

मरने के बाद किसी इंसान तो क्या किसी भी जीव मात्र के जिन्दा होने की घटना असम्भव सी लगती है. लेकिन जब ऐसी घटना हकीकत में घटित हो जाती है तो लोग चाहे उसे अंधविश्वास ही कहे लेकिन हमारा दिलोदिमाग ईश्वर की सत्ता के प्रति नतमस्तक हो ही जाता है. घटना पंजाब के जिले गुरदासपुर की है. जहाँ मौत के आठ घंटे बाद एक महिला जिन्दा हो गई. हालाँकि, डॉक्टर्स इसे गलत बता रहे हैं.स्वर्ग

बताया जा रहा है कि मोहल्ला इस्लामाबाद में बीरो देवी नामक महिला के अंतिम संस्कार की तैयारी चल रही थी. घर में रोना-धोना चल रहा था. घरवालों का कहना है कि बीरो देवी डायबिटीज से पीड़ित हैं. सोमवार देर रात घरवालों ने पाया कि बीरो देवी की सांसें रूक गई हैं. मौत की खबर सुनते ही घर में मातम पसर गया. घरवाले बीरो देवी को लेकर सिविल अस्पताल लेकर पहुंचे. यहां डॉक्टरों ने चेकअप के बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया और घर ले जाने की सलाह दी.

मंगलवार सुबह उनके दाह संस्कार की तैयारियां चल रही थी. आस-पास से परिवार के लोगों को बुला लिया गया था. बीरो देवी के पार्थिव शरीर के आसपास बैठकर लोग विलाप कर रहे थे. तभी वहां बैठे एक परिजन ने बीरो देवी के शरीर में हरकत महसूस की. दूसरे परिजनों ने जब बीरो देवी सीने में कान लगाकर सुना तो पता चला कि धड़कन चल रही है.

लोगों को जब तक पता चला बीरो देवी अचानक उठकर बैठ गई. ऐसे में आसपास के लोग घबरा उठे. बीरो देवी से बातचीत की गई तो उन्होंने कहा की वो स्वर्ग के दर्शन करके लौटी है. बीरो देवी के वापसी का कारण हैरान कर देने वाला है उन्होंने बताया की यमराज पास के मौहले से किसी को लेने आये थे और गलती से उनको लेकर चले गए. बाद में यमराज ने गलती मानी और सुधार करने के लिए यमदेव ने मुझे फिर से मेरे पार्थिव शरीर में पुन: जन्म दिया है. अस्पताल में बीरो देवी की जाँच की गई और रिपोर्ट नॉर्मल आने पर मात्र तीन दिन के उपचार के पश्चात घर जाने की अनुमति दे दी गई.स्वर्ग

सिविल अस्पताल के हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. मनजिंदर सिंह बब्बर ने कहा की महिला ने जो भी कहा है वो झूठ है. वास्तविक कारण पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा की बीरो देवी का शूगर लेवल में ज्यादा गिरावट आने से ऐसा हुआ होगा. शूगर की वजह से शरीर में हरकत बंद हो गई शायद इसी वजह से उन्हें मृत घोषित किया गया होगा. उन्होंने ये भी कहा की मृत घोषित करने से पहले यदि ईसीजी टेस्ट किया गया होता तो शायद यह गड़बड़ी नहीं होती.