मोदी की कैबिनेट में फेरबदल के संकेत, जेटली ने कहा -ज्यादा दिन नहीं रहूँगा रक्षामंत्री

मोदी की कैबिनेट में फेरबदल के संकेत, जेटली ने कहा -ज्यादा दिन नहीं रहूँगा रक्षामंत्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सितंबर महीने के शुरुआती दिनों में कैबिनेट में फेरबदल करने जा रहे हैं. इसके संकेत आने लगे हैं. इसी बीच, रक्षा मंत्री  अरुण जे...

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी: देश को समर्पित हुई दुनिया की सबसे ऊँची पटेल की प्रतिमा- जानिए खास बातें
Gmail ID की सर्चिंग हिस्ट्री उजागर कर सकती है आपका सारा कच्चा चिट्ठा, संभलकर करें इस्तेमाल
आपको कभी भविष्य में टीबी होगी या नहीं? पहले ही बताएगा ये टेस्ट, वैज्ञानिकों ने खोजी नई तकनीक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सितंबर महीने के शुरुआती दिनों में कैबिनेट में फेरबदल करने जा रहे हैं. इसके संकेत आने लगे हैं. इसी बीच, रक्षा मंत्री  अरुण जेटली ने गुरुवार को इशारों- इशारों में ही कह दिया कि वे ज्यादा दिन तक रक्षा मंत्री नहीं रहेंगे. ऐसे में क्या समझा जाए कि नई कैबिनेट फेरबदल में देश को स्थाई रक्षा मंत्री मिल जाएगा? बता दें कि मनोहर पर्रिकर के गोवा जाने के बाद से रक्षा मंत्री का पद खाली है.

रक्षा मंत्री के कार्यकाल को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में जेटली ने कहा- कम से कम मुझे उम्मीद है कि अब मैं ज्यादा दिन नहीं रहूंगा. वैसे भी मुझे इसका फैसला नहीं करना है. बता दें कि जेटली के पास वित्त मंत्रालय है. पर्रिकर के गोवा का सीएम बनने के बाद उन्हें अतिरिक्त जिम्मेदारी के तौर पर रक्षा मंत्रालय दिया गया था.

इस महीने लगातार हो रहे हादसों के बाद पिछले दिनों रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने पहले ही इस्तीफे की पेशकश कर दी है. ऐसे में रेल मंत्री का बदला जाना तय है. कहा जा रहा है कि रेल मंत्री के तौर पर नितिन गडकरी को अतिरिक्त जिम्मेदारी दी जा सकती है, जो फिलहाल परिवहन मंत्रालय देख रहे हैं.

मानसून सत्र खत्म होने के बाद से  ही कैबिनेट फेरबदल की चर्चाओं का दौर तेज हो चुका है . हालांकि गुजरात राज्यसभा चुनाव आदि की वजह से फेरबदल की तारीख आगे बढ़ती रही. ऐसे में अब मोदी सरकार अपने तीसरे कैबिनेट फेरबदल के लिए तैयार है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने मंत्रिपरिषद में बदलाव को लेकर चर्चा की है. कहा जा रहा है कि चीन दौरे से पहले मोदी इस प्रोसेस को पूरा कर लेना चाहते हैं.

मोदी मंत्रिपरिषद में जेडीयू नेताओं को भी शामिल किया जा सकता है. हाल ही में बिहार में जेडीयू और बीजेपी ने मिलकर सरकार बनाई है. इस बार जेडीयू के नेताओं को भी मंत्रिपरिषद में जगह मिल सकती है . इस बाबत चर्चा करने के लिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 24 अगस्त को दिल्ली आ रहे हैं.

कैबिनेट में फेरबदल के अलावा सरकार विभिन्न राज्यों के राज्यपाल के नामों की घोषणा कर सकती है, जिसमें तमिलनाडु और बिहार के राज्यपाल भी शामिल हैं. इसके अलावा कुछ मंत्रियों को साल 2019 के चुनाव के मद्देनजर पार्टी में भेजा जा सकता है. ये मंत्री उत्तर प्रदेश राज्य यूनिट पर विशेष ध्यान देंगे.

COMMENTS