पति को दर्द था तो ले गयी दर्दनिवारक टेबलेट, बदले में मिलेगी फांसी की सजा

पति को दर्द था तो ले गयी दर्दनिवारक टेबलेट, बदले में मिलेगी फांसी की सजा

ब्रिटेन की एक महिला को पति के लिए पेनकिलर ले जाना महंगा पड़ गया. अब उसे कम से कम 25 साल की जेल या फिर फांसी की सजा हो सकती है. दरअसल ब्रिटेन की 34 वर्ष...

डीजल पर 50 रूपए सब्सिडी और बिजली 75 पैसे यूनिट, नीतीश सरकार ने की तोहफों की बरसात
रसगुल्ले खाने से स्वास्थ्य को मिलते हैं ये फायदे
मौसम विभाग पर एफआईआर, किसानों को गलत पूर्वानुमान देने का आरोप

ब्रिटेन की एक महिला को पति के लिए पेनकिलर ले जाना महंगा पड़ गया. अब उसे कम से कम 25 साल की जेल या फिर फांसी की सजा हो सकती है. दरअसल ब्रिटेन की 34 वर्षीय लौरा प्लमेर को बीते माह की 9 तारीख को मिस्र में उस समय गिरफ्तार किया गया था जब वह अपने पति से मिलने जा रही थी.

प्राप्त जानकारी के अनुसार लौरा प्लमेर के पति मिस्र के नागरिक है लौरा प्लमेर अक्सर अपने पति के पास आती रहती है. लौरा प्लमेर के पति कुछ समय पहले एक्सीडेंट हो गए थे. दर्द से परेशान पति के लिए लौरा प्लमेर ने कुछ दर्द निवारक टेबलेट ली और पति से मिलने मिस्र पहुंची. मिस्र में जांच के दौरान उसके सूटकेस से ट्रैमडॉल और नैपरॉक्सन जैसी दर्द निवारक गोलियां मिलने पर उसे गिरफ्तार कर लिया गया.

“द इंडिपेंडेंट” में छपी खबर के मुताबिक महिला को मिस्र के कानून के मुताबिक जेल में डाल दिया गया है. फिलहाल उसे 15 गुणा 15 की जेल की कोठरी में 25 अन्य महिलाओं के साथ एक महीने के लिए बंद कर दिया गया है. महिला के भाई ने बताया की पुलिस द्वारा दी गयी जानकारी के मुताबिक उसकी बहन को मौत की सज़ा भी सुनाई जा सकती है. उनका कहना है की मिस्र के अधिकारीयों ने उसकी बहन को ड्रग ट्रैफिकिंग के मामले में गिरफ्तार किया है, जबकि उसके पास मात्र कुछ पेनकिलर्स थे जो वह अपने पति के लिए लायी थी. उसकी बहन को लगा था कि वह अपने पति के लिए दवाइयां ले जाकर अच्छा काम कर रही है और ये वास्तव में ही पति के लिए अच्छा करने का प्रयास था.

महिला के भाई जेम्स प्लमेर ने कहा की मेरी माँ और दूसरी बहन लौरा प्लमेर से मिलने भी गए है. लेकिन मामला दुसरे देश का होने की वजह से हमारे पास ऑप्शन बहुत कम है. हम खुद को बेबस महसूस कर करे है. जेम्स ने मिस्र के विदेश मंत्रालय से भी मदद की गुहार लगायी है.

COMMENTS