कड़ाके की ठण्ड में भी सर्दी आपको छू नहीं पायेगी, खानपान में शामिल करें ये ‘ख़ास’ चीजें

कड़ाके की ठण्ड में भी सर्दी आपको छू नहीं पायेगी, खानपान में शामिल करें ये ‘ख़ास’ चीजें

जैसे-जैसे सर्दियों के मौसम में ठण्ड बढ़ती जाती है, जुकाम-बुखार और खांसी जैसी बिमारियों में बढ़ोतरी हो जाती है. खासकर छोटे बच्चों और बुजुर्गों पर सर्दी क...

चंद्र ग्रहण के दौरान क्या करें और क्या नहीं, जानिए सूतक से लेकर मोक्ष तक के नियम
पति से संबंध बनाये बिना शादी के पांच साल बाद माँ बनी महिला, फिर भी अभी तक है कुंवारी
क्रिकेट प्रेमियों के लिए बुरी खबर: क्रिकेटर आशीष नेहरा की पत्नी अस्पताल में भर्ती, फैन्स कर रहे जल्द स्वस्थ होने की दुआ

जैसे-जैसे सर्दियों के मौसम में ठण्ड बढ़ती जाती है, जुकाम-बुखार और खांसी जैसी बिमारियों में बढ़ोतरी हो जाती है. खासकर छोटे बच्चों और बुजुर्गों पर सर्दी का असर कुछ जल्दी ही होता है. इससे बचने के लिए हम गरम कपड़ों से लेकर तमाम आवश्यक जतन तो करते हैं लेकिन फिर भी सर्दी की चपेट में आने वालों की संख्या में बढ़ोतरी होती जाती है. सर्दी से बचने के लिए बाहर के साथ-साथ शरीर अन्दर से भी गर्म रहना जरुरी है. यानी जब हमारा खानपान सही और शरीर ताकतवर होगा तो सर्दी का हम पर कुछ विशेष असर नहीं पड़ता.देशी नुस्खे

ठंड में लौंग, तुलसी, काली मिर्च और अदरक से बनी चाय खांसी, सर्दी, जुकाम के लिए ‘रामबाण’ का काम करती है. आपको पता ही होगा कि जुकाम एक संक्रामक बीमारी है जो बहुत जल्दी बढ़ती है. यह बीमारी बहती नाक, बुखार, सुखी या गीली खांसी अपने साथ लाती है, जो श्वसन तंत्र पर अचानक हमला करता है. इससे बचने के लिए सर्दियों के मौसम में लौंग, तुलसी, काली मिर्च और अदरक का उपयोग हमें करते रहना चाहिए.

सामान्य सर्दी के मौसम में  शहद का सेवन करने से शरीर को कई तरह की रोगों से दूर रखा जा सकता है. आयुर्वेद में शहद को अमृत माना गया है. सर्दी, जुकाम होने पर रात को सोने से पहले एक ग्लास गुनगुने दूध में एक चम्मच शहद मिलाकर पीने से यह खत्म हो जाती है. शहद शरीर के ‘इम्युन सिस्टम’ को दुरुस्त करता है.

जब सर्दी का मौसम हो और बाजरे की रोटी हो तो बात ही कुछ ओर होती है. स्वाद के साथ-साथ बाजरे की रोटी सर्दियों में हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होती है. बाजरा हमारे शरीर को गर्म रखने के साथ ही प्रोटीन, विटामिन बी, कैल्शियम, फाइबर और एंटी ऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जो हमारे शरीर के लिए अच्छे होते हैं. ठंड से बचने के लिए बच्चों को भी बाजरे की रोटी खिलानी चाहिए.देशी नुस्खे

इसके अलावा आंवला और मूंगफली का प्रयोग सर्दियों में काफी फायदेमंद होता है. तिलों के तेल से मालिश भी हमें ठंड से बचाने का काम करती है. इसके साथ ही इन दिनों में हमें खाने में गुड़ और दूध का इस्तेमाल भी करना चाहिए जिससे सर्दी हमारे पास भी नहीं फटकेगी. गुड़ या खजूर को गर्म दूध के साथ खाने पर भी सर्दी से राहत मिलती है.