सरकार की नई नीति, अब ‘शराबबंदी’ की तरह ‘जुआबंदी’ भी

सरकार की नई नीति, अब ‘शराबबंदी’ की तरह ‘जुआबंदी’ भी

गोवा सरकार ने राज्य में चल रहे जुआघरों में गोवा के मूलनिवासियों के प्रवेश पर रोक लगाने की तैयारी कर ली है. प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा ...

हार्दिक ने फोड़ा हार का ठीकरा EVM के सिर, बीजेपी को दी आन्दोलन की चेतावनी
अपने रिलायंस जिओ फ़ोन में इस तरह चलायें व्हाट्सअप्प, 100% कामयाब ट्रिक
बड़ी दूर की कौड़ी है केजरीवाल का माफ़ी अभियान, जानिए- क्या है इस अभियान का असली सच?

गोवा सरकार ने राज्य में चल रहे जुआघरों में गोवा के मूलनिवासियों के प्रवेश पर रोक लगाने की तैयारी कर ली है. प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा की राज्‍य सरकार जुआघर उद्योग के लिए नियमन तैयार कर रही है. इसके लिए एक गेमिंग कमिश्नर की नियुक्ति होगी, जो गोवा के मूल निवासियों के जुआघर में प्रवेश प्रतिबंधित करेगी. इस बारे में सरकार इसी महीने एक जुआघर पॉलिसी भी ला रही है.

मनोहर पर्रीकर ने विधानसभा में बताया की, ‘एक नीति के तौर पर गोवा के मूल लोगों को जुआघर वाले क्षेत्र में प्रवेश करने की अनुमति नहीं होगी. सिर्फ बाहर से आने वाले पर्यटकों को इसकी इजाजत होगी. एक बार गेमिंग कमिश्नर की नियुक्ति हो जाने पर एक प्रणाली स्थापित की जाएगी.’

प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा की कुछ जुआघरों को विशेष निर्दिष्ट इलाकों में ट्रांसफर किया जायेगा. जिसे हम आगामी नीति में अधिसूचित करेंगे. मुख्यमंत्री ने कहा की सरकार अधिसूचित निर्दिष्ट जोनों की पहचान करेगी, जहां वर्तमान में चल रहे अपतटीय जुआघरों को स्थानांतरित किया जा सकता है. इसका मतलब है कि सरकार जोन को अधिसूचित करेगी ..अपतटीय जुआघरों के लिए लाइसेंस जारी किए जाएंगे. जिन्हें 10 से 15 वर्षों तक के कार्यकाल के लिए देने पर विचार सरकार द्वारा किया जा सकता है.

COMMENTS