SBI का बड़ा फैसला- किसी दुसरे के खाते में नहीं जमा कर सकेंगे कैश, ये है कारण

SBI का बड़ा फैसला- किसी दुसरे के खाते में नहीं जमा कर सकेंगे कैश, ये है कारण

भारतीय स्टेट बैंक ने बैंक खातों में रकम जमा करवाने के नियम में बड़ा बदलाव किया है. SBI का कहना है की नोटबंदी के बाद बड़े पैमाने पर जालसाजी के मामले सामन...

SBI खाताधारकों के लिए खुशखबरी, बदल गया कैश जमा करवाने का ये नियम
मोदी सरकार की ‘धन धना धन’ योजना, कीजिये सिर्फ ये काम और ले जाईये एक करोड़ से पांच करोड़ तक नकद
जोक होने जा रहा सच- अगर बैंक गए तो पड़ेगा भारी, 20 जनवरी से हर सेवा का देना होगा चार्ज

भारतीय स्टेट बैंक ने बैंक खातों में रकम जमा करवाने के नियम में बड़ा बदलाव किया है. SBI का कहना है की नोटबंदी के बाद बड़े पैमाने पर जालसाजी के मामले सामने आये. जिस पर SBI ने यह कदम उठाते हुए फैसला लिया की अब किसी के खाते में कोई अन्य व्यक्ति कैश जमा नहीं करवा पायेगा.SBI

क्या है नया नियम

नए नियम के अनुसार अगर आपका किसी बैंक में खाता है और कोई अन्य व्यक्ति आपके बैंक खाते में नकदी जमा करवाना चाहता है तो अब वो आपके खाते में नकदी जमा नहीं करवा पायेगा. बैंक ने कहा है की नए नियम के बाद कोई बेटा भी अपने पिता के खाते में रकम जमा नहीं करवा पायेगा.

क्या है कारण इस नियम को लागू करने के

SBI ने इसके कारण के बारे में बताते हुए कहा है कि नोटबंदी के दौरान कई बैंक खातों में बड़ी संख्या में हजार और पांच सौ नोट जमा किए गए थे. अब जांच के बाद जब लोगों से इतने सारे नोटों के बारे में पूछा जा रहा है तो उनका कहना है कि किसी अनजान शख्स ने उनके बैंक खातों में पैसे जमा करा दिए हैं. उनका उससे कोई लेना-देना नहीं है.

इसके बाद आयकर विभाग ने बैंकों से अनुरोध किया कि ऐसा कोई नियम बनाया जाए ताकि किसी दुसरे के खाते में किसी अन्य व्यक्ति द्वारा कैश जमा ना करवाया जा सके ताकि कोई भी व्यक्ति जिसके खाते में कैश जमा हुआ है वो अपनी जवाबदेही से बच ना सके.SBI

क्या छुट दी गई है नए नियम में

बैंक ने इस नियम को लागू करने के साथ ही इसमें कुछ विशेष परिस्थितियों के तहत कैश जमा करवाने में कुछ छूट भी दी है. इस छूट के अनुसार अगर आपका पुत्र आपके बैंक खाते में कैश जमा करवाना चाहता है तो उसे आपकी अनुमति का लेटर दिखाना होगा और इसके अलावा बैंक काउंटर पर नकदी के साथ दी जाने वाली जमा फॉर्म पर बैंक खाता धारक का हस्ताक्षर होना चाहिए.

इन दो परिस्थितियों में ही कोई दूसरा शख्स किसी के बैंक खाते में नकदी जमा कर पाएगा. हालांकि बैंक ने ये भी साफ कर दिया है कि अगर कोई ऑनलाइन किसी के बैंक खाते में पैसे जमा कराना चाहता है तो वह इसके लिए स्वतंत्र है. यहां नया नियम लागू नहीं होगा.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0