सुपरस्टार रजनीकांत हुए छोटे से बच्चे की ईमानदारी के कायल, घर बुलाकर पूरी की बच्चे की ख्वाहिश

सुपरस्टार रजनीकांत हुए छोटे से बच्चे की ईमानदारी के कायल, घर बुलाकर पूरी की बच्चे की ख्वाहिश

जाने माने हीरो सुपरस्टार रजनीकांत के नाम से आज के समय में कौन परिचित नहीं है, उनके लाखों फैन्स उनसे मुलाक़ात करने की चाह रखते हैं. लेकिन सबका नसीब इस स...

मोदी का किसानों के लिए बड़ा फैसला, फसलों के दाम लागत से डेढ़ गुणा करने को नई खरीद प्रक्रिया को मंजूरी
कुछ बच्चे तो इतने क्यूट होते हैं की उन्हें देखने के बाद…ऐसे ही मस्तीभरे जोक्स के लिए क्लिक करें
रात को एक लड़की ने मुझसे कपड़े धुलवाए और बर्तन मंजवाये…. राहुल गाँधी के सुपरहिट जोक्स

जाने माने हीरो सुपरस्टार रजनीकांत के नाम से आज के समय में कौन परिचित नहीं है, उनके लाखों फैन्स उनसे मुलाक़ात करने की चाह रखते हैं. लेकिन सबका नसीब इस सात साल के बच्चे यासीन जैसा नहीं होता. दरअसल सुपर स्टार रजनीकांत आजकल एक छोटे से बच्चे से मुलाक़ात को लेकर ख़बरों में छाए हुए हैं.

रजनीकांत मोहम्मद यासिन नाम के इस लड़के की ईमानदारी पर फिदा हो गए. दूसरी कक्षा में पढने वाले इस बच्चे को स्कूल जाते समय रस्ते में एक पर्स मिला जिसमें 50,000 रुपये थे. यासीन ने बिना किसी लालच के इस पर्स को स्कूल जाकर अपने प्रिंसिपल को दे‍ दिया और कहा कि ये उसके पैसे नहीं है. प्रिंसिपल ने भी बिना देरी किए पुलिस को इसकी जानकारी दी और फिर ये पर्स पैसों समेत उसके मालिक तक पहुंचाया गया.

यासीन की ईमानदारी से खुश होकर जब पूछा गया की उसे इसके बदले में क्या इनाम चाहिए तो बच्चे ने कहा की वह सुपरस्टार रजनीकांत से मिलना चाहते हैं. यासीन के ख्वाहिश की खबर मीडिया के माध्यम से जब रजनीकांत को लगी तो वो भी उसकी ईमानदारी से प्रभावित हुए बिना नहीं रह सके. बस फिर क्या था, उन्होंने भी झट से इस बच्चे से मिलने का मन बना लिया. रजनीकांत ने विशेष निमन्त्रण देकर बच्चे को उसके परिवार के साथ अपने घर पोएडन गार्डन में बुला लिया.

यासीन से मुलाक़ात के बाद रजनीकांत ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि आज के दौर में लोग चंद पैसों के लिए एक दूसरे को धोखा दे देते हैं, एक दूसरे की जान तक ले लेते हैं. ऐसे में यासिन समाज के लिए एक मिसाल बनकर उभरे हैं. सुपरस्टार रजनीकांत ने बच्चे की गरीबी और ईमानदारी को देखते हुए उसकी हायर एजुकेशन का खर्च उठाने का भी वादा किया.

COMMENTS