सावधान: अधिक ठंडा पानी हो सकता है जानलेवा, बदल लें अपनी आदत- शरीर को होते हैं ये नुकसान

सावधान: अधिक ठंडा पानी हो सकता है जानलेवा, बदल लें अपनी आदत- शरीर को होते हैं ये नुकसान

गर्मी के मौसम में हमें जब भी प्यास लगती है तो हमें ठन्डे पानी की जरूरत रहती है, ठंडा पानी ही नहीं हमें बेहद ज्यादा ठन्डे पानी की दरकार रहती है. जब ठंड...

Box office Collection: ‘स्त्री’ करेगी शानदार कमाई, अब तक कमाए 75 करोड़
भूख से बिलख रहा था लावारिस बच्चा, लेडी पुलिस अफसर ने किया ऐसा की सरकार ने दिया इतना बड़ा ईनाम
क्रिकेट प्रेमियों के लिए खुशखबरी: 23 मार्च से शुरू होने जा रहा है IPL, भारत में ही होगा आयोजन

गर्मी के मौसम में हमें जब भी प्यास लगती है तो हमें ठन्डे पानी की जरूरत रहती है, ठंडा पानी ही नहीं हमें बेहद ज्यादा ठन्डे पानी की दरकार रहती है. जब ठंडा पानी हमारे हलक से नीचे उतरता है तो हमें वो स्वर्ग का सा अहसास दिलाता है और लगता है जैसे आत्मा तृप्त हो गई हो. लेकिन क्या आप जानते हैं की ज्यादा ठंडा पानी हमारे स्वास्थ्य के लिए कितना नुकसानदायक होता है? दुर्भाग्य ये है की ठंडे पानी के नुकसान का पता काफी समय बाद चलता है लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी होती है.

शरीर पर ठंडे पानी के नकारात्मक प्रभाव–

दिल के लिए नुकसानदायक

आजकल फ्रीज़ तो अमूमन हर घर में होता है और जब घर में फ्रीज़ हो और हम ज्यादा ठंडा पानी यानी चिल्ड वाटर ना पियें, ये हो ही नहीं सकता. अधिक ठंडा पानी पीने से भले ही मन को सुकून मिलता हो, लेकिन वास्तव में ये आपके दिल के लिए बिलकुल भी अच्छा नहीं. जी हां ये सच है की ठंडा पानी दिल की गति को कम करने के साथ-साथ वेगस तंत्रिका को प्रभावित करता है जिससे दिल की गति कम हो जाती है.

पेट की बिमारियों का कारण

यदि आपको पेट की समस्याएं रहती हैं, तो इसकी वजह भी आपकी ठंडा पानी पीने की आदत हो सकती है. ठंडा पानी पाचन प्रक्रिया को बाधित करता है. ठंडा पानी पीने से नसें सिकुड़ने लगती है और पाचन क्रिया धीमी हो जाती है. जिसके चलते पेट की समस्याएं पैदा होती हैं. अगर आपको भी लगता है की आपको भी पेट से जुड़ी परेशानियां होती हैं, तो आज से ही ठंडा पानी पीना बंद करें.

गला खराब होने का कारण

इस बात से कोई अनजान नही है की ज्यादा ठंडा पानी पीने से गला ख़राब हो जाता है. लेकिन आप यह सोचते हैं की यह महज बड़ों के बहाने हैं, तो आप गलत हैं. ज्यादा ठंडा पानी पीने से श्वसन तंत्र में म्युकोसा नाम की सुरक्षात्मक परत संकुलित हो जाती है और गला ख़राब हो सकता है.

कब्ज़ की बिमारी

ये तो आप जानते होंगे की ज्यादा ठंड से चीजें जम जाती हैं,  ठीक वैसे ही हमारे शरीर में अधिक ठंडा पानी शारीरिक चीजों को सख्ता बना देता है. जिस कारण कब्ज और बवासीर जैसी परेशानियां जन्म लेती हैं. अगर आपको पहले से ही कब्ज़ जैसी किसी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है तो ये ठंडा पानी सच में आपका दुश्मन ही है.

डॉक्टर्स की राय

डॉक्टरों के अनुसार, अधिक ठंडा पानी आपके खाने के पोषक तत्वों को खत्म कर देता है. अगर आप पोषक आहार लेने के बाद ठंडा पानी पीते हैं.  तो समझ जाएँ की आपने कुछ पोषक आहार नहीं खाया है. आदमी के शरीर का तापमान 37 डिग्री सेल्सियस होता है और जब हम कोई ठंडी चीज़ पीते या खाते हैं, तो उसको शरीर के तापमान के बराबर लाने में शरीर को ऊर्जा खर्च करनी पड़ती है. यदि आप ठंडा पानी नहीं पीते तो यही ऊर्जा भोजन के पाचन और पोषक तत्वों के अवशोषण के लिए कार्य करती हैं.

अब क्या करना है

तो, अब आप समझ ही गए होंगे की ठंडे पानी से हमारे शरीर को कितना नुकसान होता है. अब आज के बाद जब भी आप पानी पियें तो चिल्ड की बजाय सामान्य पानी ही पियें. बेहतर होगा की आप घड़े का पानी पियें. इससे आपको फायदा होगा. और हाँ, ऊपर मुंह करके पानी तो कभी भूलकर भी ना पियें. कम से कम इस मौसम में तो बिलकुल भी नहीं. इसके साथ ही छोटे-छोटे बच्चों को भी ऐसी आदत डालें ताकि वो भी कभी ज्यादा ठंडा पानी और ऊपर मुंह करके पानी कभी ना पियें.