विजय माल्या के भारत प्रत्यर्पण को मंजूरी,मुंबई की इस जेल में बीतेंगी उसकी रातें, बैरक तैयार

विजय माल्या के भारत प्रत्यर्पण को मंजूरी,मुंबई की इस जेल में बीतेंगी उसकी रातें, बैरक तैयार

भारत से सार्वजनिक बैंकों से करोड़ों का कर्जा लेकर भागे शराब कारोबारी विजय माल्या को भारत लाने का रास्ता साफ़ हो गया है. लंदनके वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने स...

महज पौधा नहीं है तुलसी, अगर इस जगह लगाओगे तो खुल जायेंगे साक्षात कुबेर के भण्डार
अमेरिका का सीरिया के खिलाफ युद्ध का ऐलान, दनादन दागी 100 से ज्यादा मिसाइलें- दहल उठा दमिश्क
आओ वास्तु सीखें-5: किस दिशा में कितनी जगह छोड़कर घर बनायें और इसके वास्तु दोष दूर करने के उपाय

भारत से सार्वजनिक बैंकों से करोड़ों का कर्जा लेकर भागे शराब कारोबारी विजय माल्या को भारत लाने का रास्ता साफ़ हो गया है. लंदनके वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने सोमवार को प्रत्यपर्ण पर सुनवाई करते हुए उसके प्रत्यर्पण का आदेश दिया है. करीब एक साल लंबे चले ट्रायल के बाद कोर्ट सोमवार कोअपना फैसला सुनाया. 62 वर्षीय पूर्व किंगफिशर एयरलाइंस के मालिक विजय माल्या की पिछले साल अप्रैल में प्रत्यर्पण पर हुई गिरफ्तार के बाद से जमानत पर हैं.

 विजय माल्या

इंडियन आर्मी ने निभाया एक माँ से किया वादा, जानकार आप भी कायल हो जाओगे भारतीय सेना के

इससे पहले मनी लांड्रिंग और बैंकों से 9000 करोड़ रूपए के फर्जीवाड़े में फंसे विजय माल्या ने बैंकों से धोखाधड़ी के आरोपों को ख़ारिज करते हुए कहा था की उसने कोई फर्जीवाड़ा नहीं किया. इसके साथ ही, माल्या ने कहा कि उनकी तरफ से भारतीय बैंकों को पैसे वापस करने का प्रस्ताव झूठा नहीं है. माल्या ने ये बातें लंदन के वेस्टमिंस्टर कोर्ट (Westminster Court) के बाहर कही.

लंदन के वेस्टमिंस्टर कोर्ट के माल्या के प्रत्यर्पण को लेकर दिए गए फैसले के बाद ये फैसला यूके के गृह विभाग के पास जाएगा. वहां पर गृहसचिव साजिद जावेद इस फैसले पर अपना आदेश पास करेंगे. दोनों पक्षों को यह अधिकार होगा कि वे चीफ मजिस्ट्रेट कोर्ट के फैसले के खिलाफ यूके के हाईकोर्ट में अपीलदायर करें.

ब्रिटेन से माल्‍या को प्रत्यर्पित किए जाने की स्थिति में मुंबई की आर्थर रोड जेल के अधिकारियों ने उसके लिए एक उच्च सुरक्षावाली बैरक तैयार रखी है. जेल के अधिकारीयों के मुताबिक माल्या को प्रत्यर्पित करने के बाद उसे जेल परिसर के अंदर दो मंजिला इमारत में स्थित एक उच्च सुरक्षा वाली बैरक में रखा जाएगा. जेल के इसी हिस्से में 26/11 के मुंबई आतंकी हमले के दोषी अजमल कसाब को रखा गया था.

 विजय माल्या

आ गई अमृतसर रेल हादसे की जांच रिपोर्ट, इतने लोगों को माना गया है हादसे का दोषी

केंद्रीय गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने पहले कहा था कि मुंबई की आर्थर रोड जेल दुनिया के सर्वश्रेष्ठ कारावासों में से एक है. अधिकारी का यह बयान तब आया था जब ब्रिटेन ने भारतीय अधिकारियों से आर्थर रोड जेलका एक वीडियो भेजने को कहा था जहां माल्या को प्रत्यर्पण के बाद रखने की योजना है. जेल के अधिकारीयों के अनुसार हाई सिक्यूरिटी वाली बैरक अन्य कोठरियों से अलग हैं. इनमें लगातार सीसीटीवी की निगरानी होती है और अत्याधुनिक हथियारों के साथ सुरक्षाकर्मी तैनात रहते हैं.

COMMENTS